Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अनवांटेड प्रेग्नेंसी से ऐसे पाएं छुटकारा, अपनाएं ये घरेलू तरीके

अनवांटेड प्रेग्नेंसी से कपल्स को परेशान होने की जरूरत नहीं है। कुछ आसान और घरेलू तरीकों से अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाया जा सकता है। वैसे तो मार्केट में अनवांटेड प्रेग्नेंसी रोकने के लिए कई ऑप्शंस हैं, लेकिन उनके कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं।

अनवांटेड प्रेग्नेंसी से ऐसे पाएं छुटकारा, अपनाएं ये घरेलू तरीके

अनवांटेड प्रेग्नेंसी से कपल्स को परेशान होने की जरूरत नहीं है। कुछ आसान और घरेलू तरीकों से अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाया जा सकता है। वैसे तो मार्केट में अनवांटेड प्रेग्नेंसी रोकने के लिए कई ऑप्शंस हैं, लेकिन उनके कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं।

कंडोम, गर्भनिरोधक गोलियां, इंट्रा यूटरीन उपकरण, स्पर्मीसाइडल जेल आदि कई तरीकों के इस्तेमाल से अनचाहे गर्भधारण को रोका जा सकता है। लेकिन अगर आप मार्केट के तरीकों को नहीं अपनाना चाहती हैं तो ये घरेलू तरीके आपके काम आ सकते हैं। जानें क्या है इसके लिए घरेलू उपचार-

नीम का तेल

पहले भी नीम के तेल का प्रयोग गर्भनिरोधक के रूप में किया जाता रहा है। नीम का तेल एक प्रकार का एंटीसेप्टिक होता है और इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता। ऐसे में नीम के तेल का प्रयोग वेजिनल क्रीम या फिर जेल के रूप में किया जा सकता है। इसका यूज करने के पांच घंटे तक इसका प्रभाव रहता है। साथ ही पुरूष, नीम के तेल को कैप्सूल के रूप में ले सकते हैं। इस तरीके से गर्भधारण को रोका जा सकता है।

हल्दी

हल्दी से भी अनचाहे गर्भ को रोका जा सकता है। हल्दी में कर्क्यूमिन (Curcumin) नाम का तत्व होता है, जो फायदा पहुंचाता है। वैजाइनल ऑरफिस में हल्दी लगाने से यह शुक्राणुओं की गतिशीलता को रोक देती है और गर्भ की संभावना नहीं रहती।

अरंडी के बीज

अरंडी के बीज से भी अनवांडेट प्रेग्नेंसी से बचा जा सकता है। इन बीजों को फोड़कर उसमें मौजूद सफेद बीज निकाल लें और शारीरिक संबंध बनाने के 72 घंटे के अंदर महिलाओं का इसे खाने से गर्भधारण की संभावना बहुत कम होती है। इसके अलावा महिलाएं इसका सेवन पीरियड्स के तीन दिनों तक करेंगी तो एक महीने तक इसका प्रभाव बना रहेगा।

इसे भी पढ़े: सावधान! 'पेट में कीड़े' के कारण होती हैं ये समस्याएं, बचने के लिए अपनाएं ये तरीका

पुदीना

पुदीना से भी गर्भधारण रोका जा सकता है। सूखे हुए पुदीने के पत्ते का पाउडर बना लें और संबंध बनाने के पांच मिनट के बाद एक ग्लास गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच पाउडर का सेवन करने से गर्भधारण नहीं होगा।

आंवला

अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए आंवले के साथ 'रसनजनम' और 'हरितकारी' नाम की औषधियां को समान मात्रा में लेकर पाउडर बना लें। बता दें कि ये औषध‌ियां क‌िसी भी आयुर्वेदिक स्टोर पर आसानी से म‌िल जाएंगी। पीरियड्स के चौथे दिन से 16वें दिन तक महिलाएं इस पाउडर का सेवन करें तो यह पाउडर एक गर्भनिरोधक गोलियों की तरह असर करेगा।

Next Story
Share it
Top