logo
Breaking

Pariksha Pe Charcha 2019 : ‘परीक्षा पे चर्चा 2.0'' में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मंगलवार को कहा कि एक-आध परीक्षा में कुछ Pariksha Pe Charcha 2019 : इधर-उधर हो जाए तो जिंदगी ठहर नहीं जाती, जिंदगी में हर पल कसौटी जरूरी है, ऐसे में कसौटी के तराजू पर नहीं झोंकने पर जिंदगी में ठहराव आ जायेगा।

Pariksha Pe Charcha 2019 : ‘परीक्षा पे चर्चा 2.0

Pariksha Pe Charcha 2019 :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मंगलवार को कहा कि एक-आध परीक्षा में कुछ इधर-उधर हो जाए तो जिंदगी ठहर नहीं जाती, जिंदगी में हर पल कसौटी जरूरी है, ऐसे में कसौटी के तराजू पर नहीं झोंकने पर जिंदगी में ठहराव आ जायेगा। प्रधानमंत्री (Prime Minister) ने छात्रों (Students), अभिभावकों (Parents), शिक्षकों (Teacher) से ‘परीक्षा पे चर्चा 2.0' (Pariksha Pe Charcha 2) में अपने संवाद में यह बात कही। जानिए ‘परीक्षा पे चर्चा 2.0' (Pariksha Pe Charcha 2) में पीएम मोदी (PM Modi) के भाषण की 10 बड़ी बातें...

‘परीक्षा पे चर्चा 2.0' में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

  • आशा और अपेक्षा जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए जरूरी है।
  • कुछ खिलौनों के टूटने से बचपन नहीं मरा करता है।
  • कसौटी बुरी नहीं होती, हम उसके साथ किस प्रकार से निपटते हैं उस पर निर्भर करता है।
  • लक्ष्य ऐसा होना चाहिए जो पहुंच में तो हो, पर पकड़ में न हो।
  • लोग कहते हैं मोदी ने बहुत आकांक्षाएं जगा दी हैं, मैं चाहता हूं कि सवा सौ करोड़ देशवासियों की सवा सौ करोड़ आकांक्षाएं होनी चाहिए।

  • परीक्षा को हम सिर्फ एक परीक्षा मानें तो इसमें मजा आएगा।
  • मां - बाप और शिक्षकों को बच्चों की तुलना नहीं करनी चाहिए।
  • अभिभावकों और शिक्षकों को बच्चों के अवसाद को हल्के में नहीं लेना चाहिए।
  • एक-आध परीक्षा में कुछ इधर-उधर हो जाए, तो जिंदगी ठहर नहीं जाती है।
  • मेरा तो सिद्धांत है कि कसौटी कसती है, कसौटी कोसने के लिए नहीं होती है।
Share it
Top