Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

50 हजार टीचरों को बड़ी राहत, NCTE ने दिया ये बड़ा बयान

उत्तर प्रदेश में हाई कोर्ट के आदेश के बाद नौकरी खोने के डर से परेशान पंचास हजार से ज्यादा शिक्षकों को राहत की सूचना मिली है।

50 हजार टीचरों को बड़ी राहत, NCTE ने दिया ये बड़ा बयान

उत्तर प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेश के बाद नौकरी खोने के डर से परेशान पचास हजार से ज्यादा शिक्षकों को राहत की सूचना मिली है। जनसूचना का अधिकार अधिनियम के तहत मांगी गई जानकारी में नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) ने कहा कि टीईटी के बाद अगर बीटीसी, डीएलएड या बीएड बाद मेंभीपास किया हो तो टीईटी मान्य होगा।

जानकारी के मुताबिक 15 हजार सहायक टीचर भर्ती में सलेक्ट हुए अभ्यार्थियों ने एनसीटीई से जानकारी मांगी थी और एनसीटीई ने जबाव में साफ कर दिया है कि यदि बीएड, बीटीसी, डीएलएड के बाद टीईटी का परिणाम घोषित हुआ है तो भी टीईटी सर्टिफिकेट मान्य होगा। आरटीआई ने नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन से सवाल किए थे जिनका जबाव एनसीटीई ने दिया है।

यह भी पढेंः SCTIMST भर्ती 2018: 10वीं पास के लिए निकली हैं बंपर वैकेंसी, जल्द करें आवेदन

क्या था मामला

साल 2012 से 2018 के बीच में प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों में टीचर नौकरी कर रहे 50 हजार से अधिक युवाओं के खिलाफ हाईकोर्ट ने शिक्षा विभाग को आदेश दिया था कि जिन टीचरों के प्रशिक्षण का रिजल्ट टीईटी के बाद आया है उन टीचरों की नियुक्ति को रद्द करें। परेशान 50 से अधिक उन टीचरों ने उच्चतम न्यायालय मे याचिका दायर की थी।

Next Story
Top