Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जॉब कर रहे हैं तो भी जरूर करें ये काम...

एक जॉब मिलने का ये मतलब नहीं होता कि आपने अपना लक्ष्य हासिल कर लिया हो।

जॉब कर रहे हैं तो भी जरूर करें ये काम...
नई दिल्ली. पढ़ाई पूरी होने के बाद हर किसी की लाइफ में कॅरियर सबसे बड़ा इन्वेस्टमेंट होता है। अगर आप एक नौकरी हासिल कर चुके हैं तो बता दें कि सिर्फ जॉब पाना ही काफी नहीं होता है। जॉब पाने के बाद भी आपको कुथ जरूरी काम करना चाहिए तभी तरक्की होगी वरना आप एक ही जगह पर रह जाएंगे और आपके बाकी कलिक आपसे आगे। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, जॉब पाने के बाद इन कामों को करने से आप अपने लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकते हैं, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स....
तय करें लक्ष्य
भले ही जॉब मिल जाए लेकिन आपको अपने करियर का लक्ष्य तय करना चाहिए। इसके लिए आप अभी से प्लानिंग और गोल सेटिंग कर लें। हाल ही में हुए एक सर्वे में यह बात सामेन आई है कि करीब करीब 72 फीसदी स्टूडेंट्स ऐसे होते हैं जो अपने कॅरियर ऑप्शन को लेकर बहुत कंफ्यूज होते हैं। अधिकांश लोगों में कॅरियर ऑप्शन में कम जागरूकता देखी गई है।
सीखने की ललक
ऐसे कई लोग होते हैं जो ये सोचते हैं कि एक बार जॉब मिल जाए फिर वह सेट हैं। लेकिन एक जॉब मिलने का ये मतलब नहीं होता है कि आपने अपना लक्ष्य हासिल कर लिया हो। आप एक जॉब पार भी अपने लक्ष्य की तरफ अग्रसर रहें और उस जॉब में तरक्की करने के लिए लगातार सीखते रहें। दरअसल, मेडिसिन, नर्सिंग, आईटी, इंजिनियरिंग जैसे ग्लोबल प्रफेशंस में लगातार सीखना पड़ता है।
जॉब के साथ-साथ सीखें डिजिटल स्किल्स
दुनिया डिजिटल होते जा रही है। ऐसे में आपको अपनी डिजिटल स्किल्स को मजबूत बनानी होगी। आप किसी भी फील्ड में जॉब करें आपमें डिजिटल स्किल्स होनी चाहिए। लर्निंग प्लैटफॉर्म टैलंट स्प्रिंट के सीईओ शांतनु पॉल का कहना है कि ऑटोमेशन के जरिए काम करने का तरीका काफी बदल जाएगा।
बने आंत्रप्रेन्योर
एक बार कॅरियर की शुरुआत हो जाए उसके बाद आपको उस पोस्ट में टिके रहने की जरूरत नहीं है। आप ऐसा प्रयास करें कि आपकी स्किल्स को देखकर आप लगातार आगे बढ़ते रहें। आईटी सेक्टर में एक पोस्ट से दूसरे पोस्ट में सफर करना बेहद आसान हो जाता है तब जब आपके अंदर वो स्किल्स हो। इसके लिए आपमें इंडस्ट्री की भी गहरी समझ होनी चाहिए। और इसके लिए सिर्फ अपने काम तक ही सीमित न रहें।
नेटवर्किंग होना जरूरी
करीब 50 फीसदी हाइरिंग नेटवर्किंग से होती है। ये कॉन्टैक्ट्स अलमनाई ग्रुप्स, फॉर्मर कॉलीग्स, लिंक्डइन और फेसबुक जैसे मीडिया प्लैटफॉर्म्स के जरिए हो सकते हैं। इन नेटवर्क का इस्तेमाल करके आप अपना टेलेंट निखार सकते हैं।
सलाह लें
कहीं न कहीं किसी न किसी की मदद लेना पड़ जाता है। बात अगर कॅरियर की हो तो करियर प्लानिंग में किसी से मदद लेना किसी से सलाह लेना बुरी बात नहीं होती है। इसलिए अगर आप जॉब सर्च कर रहे हैं या फिर एक जॉब पाकर बैठ गए हैं और आगे की प्लानिंग समझ नहीं पा रहे हैं तो अपने इंस्टिट्यूट के काउंसलरों या अन्य प्रोफेशनल्स से इस बारे में मदद लेना कोई बुरी बात नहीं है आप बेझिझक इनकी हेल्प ले सकते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top