Logo
election banner
Maldives Minister Mariyam Shiuna Apologizes: भारत और मालदीव के बीच राजनयिक विवाद चल रहा है। जनवरी 2024 में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी लक्षद्वीप के दौरे पर गए थे। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर लक्षद्वीप की सुंदरता को बढ़ावा दिया। जिस पर शिउना सहित मालदीव के कई मंत्रियों ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

Maldives Minister Mariyam Shiuna Apologizes: भारत की दरियादिली के बावजूद मालदीव अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। मालदीव सरकार में निलंबित मंत्री मरियम शिउना ने एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगला है। उन्होंने मालदीव में होने वाले संसदीय चुनावों को लेकर विपक्षी एमडीपी पर निशाना साधते हुए फिर भारत का मजाक उड़ाया। मरियम ने एक्स पर एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें भारत के राष्ट्र ध्वज में शामिल अशोक चक्र का अपमान किया।  

गौरतलब है कि भारत ने दो दिन पहले मालदीव के लिए चावल, गेहूं, चीनी, प्याज समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं के निर्यात को मंजूरी दी है। 

Maldives Minister Mariyam Shiuna
Maldives Minister Mariyam Shiuna

क्या है मरियम के पोस्ट में?
मरियम शिउना ने शनिवार, 6 अप्रैल को अपनी पार्टी पीपीएम के लिए एक पोस्ट किया। इसमें विपक्षी पार्टी एमडीपी को निशाना बनाते हुए अशोक चक्र को शामिल करके एक पोस्टर बनाया गया था। जिस पर लिखा था कि एमडीपी उनके (भारत) के जाल में फंस रही है। हमें उनके जाल में दोबारा फंसने की जरूरत नहीं है। यह पोस्टर एमडीपी के पोस्टर को विकृत करके बनाया गया था। 

एमडीपी के पोस्टर में कंपास था, लेकिन शिउना ने कंपास की जगह अशोक चक्र को शामिल कर दिया। फेक पोस्टर में भाजपा का चुनाव चिन्ह कमल भी शामिल किया गया। 

Maldives Minister Mariyam Shiuna
Maldives Minister Mariyam Shiuna Post

माफी में क्या बोलीं- शिउना
मंत्री शिउना की पोस्ट पर भारत के सोशल मीडिया यूजर्स ने तीखी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने राष्ट्रपति मुइज्जू से शिउना के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। हंगामे के बाद शिउना ने माफी मांगने से पहले पोस्ट डिलीट कर दी। उन्होंने पोस्ट पर माफी भी मांगी है। 

मरियम ने कहा कि मैं अपनी हालिया पोस्ट के कारण हुए किसी भी भ्रम या अपराध के लिए ईमानदारी से माफी मांगती हूं। मुझसे यह सबकुछ अनजाने में हुआ है। मुझे बताया गया कि मालदीव की विपक्षी पार्टी एमडीपी को मेरी प्रतिक्रिया में इस्तेमाल की गई छवि भारतीय ध्वज से मिलती जुलती है। मुझे खेद है। शिउना ने यह भी कहा कि मालदीव भारत के साथ अपने संबंधों को गहराई से महत्व देता है और देश का सम्मान करता है।

पीएम मोदी को दी थी गाली
भारत और मालदीव के बीच राजनयिक विवाद चल रहा है। जनवरी 2024 में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी लक्षद्वीप के दौरे पर गए थे। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर लक्षद्वीप की सुंदरता को बढ़ावा दिया। जिस पर शिउना सहित मालदीव के कई मंत्रियों ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। बाद में शिउना समेत अन्य मंत्रियों को सस्पेंड कर दिया गया था। वहीं, राष्ट्रपति मुइज्जू लगातार भारत के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। वे इंडिया आउट अभियान चलाकर मालदीव के राष्ट्रपति बने थे। मालदीव में तैनात भारतीय सैनिकों का एक जत्थ वापस आ चुका है। 

jindal steel Ad
5379487