Logo
election banner
Sanghamitra Maurya Badaun MP: बदायूं क्लब में मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रबुद्धजन सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे, तभी वहां बैठीं भाजपा सांसद संघमित्रा मोर्य रोने लगीं। पार्टी ने 2024 के चुनाव में उनका टिकट काट दिया है।

Sanghamitra Maurya Badaun MP: उत्तर प्रदेश के बदायूं क्लब मैदान में मंगलवार 2 अप्रेल को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबोधित के दौरान मंच पर एक ऐसा घटनाक्रम हुआ कि हर कोई असहज हो गया। मंच पर बदायूं से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य अचानक फूट-फूटकर रोने लगीं। लोग कुछ समझ पाते, उससे पहले ही संघमित्रा कुर्सी छोड़कर वहां से चली गईं। 

बदायूं क्लब में आयोजित प्रबुद्धजन सम्मेलन के मंच पर संघमित्रा मौर्य राज्यमंत्री गुलाब देवी के बगल में बैठीं थीं। अचानक उनके रोने की तस्वीरें और वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हुए तो सियासी हल्के में सवाल उठने लगे। 

भाजपा ने सिटिंग सांसद संघमित्रा मौर्य का टिकट काटकर दुर्विजय सिंह को उम्मीदवार बनाया है। लोगों का मानना है कि संघमित्रा इसी बात से दुखी हैं। हालांकि,  उन्होंने इस बात से स्पष्ट इनकार किया है। 

मंत्री गुलाब देवी सुना रहीं थीं कहानी 
मीडिया के सवलों का जवाब देते हुए संघमित्रा ने कहा, मुख्यमंत्री के मंच पर आने से पहले मेरी आंखों में आंसू आ गए थे, लेकिन इसका सियासी मतलब न निकालें। मेरे बगल में बैठी मंत्री गुलाब देवी राजा दशरथ की कहानी सुना रही थीं। तभी एक ऐसा भावनात्मक पल आया था, जिस वजह से आंसू निलक आए। 

कौन हैं संघमित्रा मौर्य 

  • संघमित्रा मौर्य पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी हैं। मार्च 2024 में उन्होंने समाजवादी पार्टी और विधान परिषद से इस्तीफा देकर राष्ट्रीय शोषित समाज पार्टी की स्थापना की है। स्वामी प्रसाद मौर्य सनातन विरोधी टिप्पणियों के लिए अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। 
  • स्वामी प्रसाद मौर्य योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री थे। तभी 2019 में भाजपा ने मुलायम सिंह के प्रभाव वाली बदायूं सीट पर संघमित्रा को लोकसभा प्रत्याशी बनाया था। 
  • संघमित्रा ने मुलायम के भतीजे धर्मेंद्र यादव को हराकर  पहली बार संसद पहुंचीं। पांच साल सक्रिय भी रहीं, लेकिन पिता के विवादित बयानों और सनातन विरोधी क्षवि के चलते भाजपा ने उनका टिकट काट बदायूं से दुर्विजय सिंह शाक्य को उम्मीदवार बना दिया। 

पीलीभीत में लड़खड़ाकर गिरा कमांडो 
पीलीभीत में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सभा को संबोधित कर रहे थे, तभी सीएम की सुरक्षा में तैनात कमांडो अचानक लड़खड़ाकर गिर गया। कमांडो को रिप्लेस कर दूसरी तैनाती की गई। फिलहाल, कमांडो अस्पताल पहुंचाया गया है। 

jindal steel Ad
5379487