Logo
RO/ARO Paper Leak Update: उत्तर प्रदेश में पेपर लीक मामलों को लेकर एसटीएफ लगातार कार्रवाई कर रही है। यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के पेपर लीक के मास्टरमाइंड के बाद अब RO/ARO परीक्षा का पेपर लीक करवाने वाले गैंग के सदस्य अमित सिंह को गिरफ्तार किया गया है।

RO/ARO Paper Leak Update: उत्तर प्रदेश में पेपर लीक मामलों को लेकर एसटीएफ लगातार कार्रवाई कर रही है। यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के पेपर लीक के मास्टरमाइंड के बाद अब समीक्षा अधिकारी (RO) एवं सहायक समीक्षा अधिकारी (ARO) परीक्षा- 2023 का पेपर लीक करवाने वाले गैंग के सदस्य अमित सिंह को गिरफ्तार किया गया है।

प्रयागराज के एक हॉस्पिटल में रटवाया था RO/ARO का पेपर
आरोपी अमित सिंह मूल रूप से गोंडा निवासी है। लखनऊ के गोमतीनगर में कॉमर्स की कोचिंग चलाता था। प्रयागराज के नैनी स्थित आरोग्यम हॉस्पिटल में कुछ अभ्यर्थियों को बुलाया गया था और वहीं उन्हें पहले ही उत्तर रटवाया गया था।

CTET पेपर लीक करने पर जा चुका है जेल
STF के मुताबिक RO/ARO पेपर लीक होने के मामले में कौशांबी के थाना मंझनपुर में मुकदमा दर्ज होने के बाद विवेचना में अमित सिंह का नाम सामने आया था। इसके चलते उसकी गिरफ्तारी हुई है। वह 2023 में CTET पेपर आउट मामले में जेल जा चुका है।

15 मार्च को 2 आरोपी हुए थे गिरफ्तार
वहीं, RO/ARO परीक्षा लीक मामले में अरुण कुमार सिंह और सौरभ शुक्ला को 15 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। यूपी पुलिस भर्ती पेपर लीक के मास्टरमाइंड राजीव नयन मिश्रा से पूछताछ में अमित सिंह का नाम सामने आया था। इसके बाद उसको हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही थी। तथ्य सही पाए जाने पर गिरफ्तार कर लिया गया।

पेपर खरीदने वाले लड़कों का करता था इंतजाम
अमित सिंह ने पूछताछ पर बताया कि गोमतीनगर में कॉमर्स की कोचिंग चलाने के दौरान दीपक दुबे बलिया के माध्यम से राजीव नयन उर्फ राहुल मिश्रा से संपर्क हुआ था। राजीव नयन को टीजीटी परीक्षा-2020/21 का पेपर पढ़ाने के लिए 20 लाख रुपए दिए थे। उसके बाद से कई भर्ती परीक्षाओं में राजीव नयन को कैंडिडेट उपलब्ध करा चुका है।

jindal steel Ad
5379487