Logo
Bhopal Railway : राजधानी भोपाल के निशातपुरा रेलवे स्टेशन का काम पूरा हो गया है। अब यहां से ट्रेनों का संचालन फिर से किया जा सकेगा। रेल मंत्रालय की मंजूरी मिलने के बाद यहां से करीब 6 ट्रेनें चलाई जा सकेंगी। स्टेशन का काम करीब 6 करोड़ के बजट से पूरा हुआ है।

Bhopal Railway : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के निशातपुरा रेलवे स्टेशन का काम पूरा होने के बाद भी यहां से ट्रेनें नहीं चलाई जा पा रही है। स्टेशन के निर्माण कार्य के चलते करीब एक साल पहले ट्रेनों के संचालन पर यहां से अनुमति रोक दी गई थी। अब निर्माण कार्यों के पूरा हो जाने के बाद यहां से ट्रेनों के संचालन को लेकर मांग की जा रही है।

रेल मंत्रालय का आदेश
भोपाल के निशातपुरा स्टेशन से इंदौर के लिए आने जाने वाली ट्रेनों के संचालन को लेकर भी तैयारी की जा रही है। भोपाल से इंदौर के लिए करीब 6 ट्रेनें चलाई जा सकती हैं। इन ट्रेनों के संचालन को लेकर रेल मंत्रालय का आदेश की ओर से अभी कोई भी आदेश जारी नहीं किया जा सका है। रेलवे विभाग के अधिकारियों का भी इस मामले में कहना है कि आदेश आने के बाद से ट्रेनें संचालित की जाएंगी।

6 करोड़ रुपए की लागत
निशातपुरा रेलवे स्टेशन को बनकर तैयार होने में  6 करोड़ रुपए की लागत आई है। स्टेशन के निर्माण के दौरान यहां से ट्रेनों के आवागमन और अन्य ट्रेनों के स्टॉपेज को लेकर रोक लगाई गई थी। नए सिरे से बन कर तैयार हुए स्टेशन से अब यहां से ट्रेनों के संचालन को लेकर भोपाल के रहवासियों द्वारा मांग की जा रही है।

ट्रेनों को यहां से संचालित किया जा सकेगा
भोपाल रेल मंडल प्रशासन की ओर से यह कहा जा रहा है कि स्टेशन का काम पूरा हो गया है। रेल मंत्रालय की ओर से अनुमति मिलने के बाद ट्रेनों को यहां से संचालित किया जा सकेगा। इसके साथ ही इंदौर से निशातपुरा तक आने वाली ट्रेनों को भोपाल जंक्शन से आवागमन को लेकर भी रेलवे विभाग के द्वारा विचार किया जा रहा है। अन्य ट्रेनों के निशातपुरा स्टेशन पर हाल्ट और स्टॉपेज को लेकर भी अधिकारियों के बीच चर्चा की जा रही है। 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487