Logo
Bhopal Bada Talab Shikara Ride: भोपाल के बड़े तालाब में पर्यटक अब शिकारे की सवारी कर सकेंगे। शुक्रवार 14 जून को महापौर मालती राय व विधायक सबनानी ने शुभारंभ किया। इस दौरान यहां कश्मीर की डल झील सा नजारा रहा।

Bhopal Bada Talab Shikara Ride: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में शुक्रवार को कश्मीर सा नजारा देखने को मिला। शुक्रवार सुबह भोपाल की शान बड़ा तालाब में वैसे ही शिकारे तैरते नजर आए, जैसे कश्मीर की डल झील में तैरते हैं। दरअसल, नगर निगम प्रशासन ने मछुआरे से एक शिकारा तैयार कराया है। शुक्रवार को महापौर मालती राय व विधायक भगवानदास सबनानी ने शुभारंभ किया। प्रोजेक्ट सफल रहा तो शिकारों की संख्या बढ़ाई जाएगी।

वीडियो देखें...

पर्यटन की सुविधा ही उद्देश्य 
भोपाल की बड़ी झील में लहरों के बीच शिकारों को अठखेलियां देख बोट क्लब पर मौजूद पर्यटक रोमांचित हो उठे। महापौर मालती राय ने कहा, बड़ी झील को प्रदूषण मुक्त रखने और नागरिकों को पर्यटन की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यह पहल की गई है। 

मायूस हो रहे थे पर्यटक
दरअसल, बड़ा तालाब में क्रूज का संचालन बंद हो जाने से पर्यटक मायूस हो जा रहे थे। पर्यटकों को नया अनुभव महसूस कराने बड़ी झील में शिकारे चलाने का निर्णय लिया गया है। शुरुआत में इनकी संख्या कम है, लेकिन डिमांड के अनुसार, इनकी संख्या में इजाफा किया जा सकता है। 

जनप्रतिनिधियों ने की शिकारों की सवारी
भोपाल के वोट क्लब में शुक्रवार को जनप्रतिनिधियों ने भी शिकारों की सवारी का लुत्फ लिया। इस दौरान महापौर व विधायक के साथ एमआईसी सदस्य रविंद्र यति, आरके बघेल, आरती अनेजा, सचान, पूजा शर्मा, विनीता सोनी, राजमणि उइके सहित नगर निगम के अधिकारी भी मौजूद रहे।

क्रूज और मोटर बोट का संचालन बंद 
दरअसल, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने गत वर्ष भोज वेटलैंड यानी बड़ा तालाब व नर्मदा सहित प्रदेश के किसी सभी जल निकायों में क्रूज और मोटर बोट के संचालन पर रोक लगा दी थी। इसके बाद से बड़ी झील में क्रूज और मोटर बोट दोनों का संचालन बंद है।

 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487