Logo
election banner
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक फेक VIDEO वायरल करने वाले पर रतलाम के सैलाना में FIR दर्ज कराई गई है। वीडियो में  SC/ST समाज के लोगों को भड़काने की कोशिश की गई है। यह एफआईआर भाजपा झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ के जिला सहसंयोजक नाथुलाल राठौड़ ने दर्ज कराई है।

MP News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक फेक VIDEO वायरल करने वाले पर रतलाम के सैलाना में FIR दर्ज कराई गई है। वीडियो में  SC/ST समाज के लोगों को भड़काने की कोशिश की गई है। यह एफआईआर भाजपा झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ के जिला सहसंयोजक नाथुलाल राठौड़ ने दर्ज कराई है। पुलिस ने इस मामले में कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

नाथुलाल राठौड़ ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी का एडिटेड वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। वीडियो में आरक्षण व प्रधानमंत्री को लेकर आपत्तिजनक बातें भी लिखी गई हैं। वायरल करने वाले का मकसद समाज में अशांति उत्पन्न करना है।

क्या है मामला
एक वीडियो वायरल हो रहा है। यह वीडियो 55 सेकंड का है। जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कह रहे हैं। मैं किसी भी आरक्षण को पसंद नहीं करता और खासकर नौकरी में आरक्षण तो कतई नहीं। मैं ऐसे किसी भी कदम के खिलाफ हूं, जो अकुशलता को बढ़ावा दे, जो दोयम दर्जे की तरफ ले जाए। और तब जाकर के मैं कहता हूं कि ये जन्मजात इसके विरोधी हैं। SC, ST, OBC को नौकरी में आरक्षण मिला तो सरकारी काम का स्तर गिर जाएगा।

पीएम ने सदन में कहा था
नाथुलाल राठौड़ ने बताया कि यह वीडियो PM मोदी का सदन में दिए गए भाषण का अधूरा VIDEO है। जो सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है।  VIDEO वायरल करने वाले SC/ST समाज के लोगों को भड़काकर अशांति उत्पन्न करवाना चाहते हैं। जबकि सदन में पीएम मोदी ने नेहरू का जिक्र करते हुए कहा था, 'एक बार नेहरू जी ने मुख्यमंत्रियों को चिट्ठी लिखी थी। इसमें लिखा था- मैं किसी भी आरक्षण को पसंद नहीं करता और खासकर नौकरी में आरक्षण तो कतई नहीं। मैं ऐसे किसी भी कदम के खिलाफ हूं, जो अकुशलता को बढ़ावा दे, जो दोयम दर्जे की तरफ ले जाए।' मोदी आगे कहते हैं, 'ये पं. नेहरू की मुख्यमंत्रियों को लिखी गई चिट्‌ठी है। नेहरू जी कहते थे- SC, ST, OBC को नौकरी में आरक्षण मिला तो सरकारी काम का स्तर गिर जाएगा।'

रतलाम में दर्ज हुई एफआईआर
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एडिटेड वीडियो में आदिवासी समाज के भोले-भाले लोगों को शासन के खिलाफ भड़काकर समाज में उपद्रव व अशांति फैलाने के लिए प्रसारित किया जा रहा है। जिसके खिलाफ नाथुलाल राठौड़ ने पुलिस से शिकायत की। शिकायत के आधार पर रतलाम पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ भादंवि की धारा 153, 153 ए, 500, 505 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया।

jindal steel Ad
5379487