Logo
election banner
BHOPAL MASTER PLAN:शिवराज सरकार ने 2031 के हिसाब से तैयार कराया था राजधानी का मास्टर प्लान, अब स्थानीय लोगों के सुझाव पर बनेगा नया ड्रॉफ्ट 

BHOPAL MASTER PLAN: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के रहवासियों के लिए अच्छी खबर है। भोपाल का मास्टर प्लान अब आजादी की 100वीं वर्षगांठ यानी वर्ष 2047 के आधार पर तैयार किया जाएगा। यह निर्णय पिछले दिनों हुई मंत्री परिषद की बैठक में लिया गया। मास्टर प्लान के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों व रहवासियों से सुझाव भी लिए जा रहे हैं। 

2047 की जरूरतों और आबादी को रखा जाएगा 
नगरीय विकास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने बताया, जन-प्रतिनिधियों से मिले सुझाव के आधार पर ही भोपाल का नया मास्टर प्लान तैयार किया जाएगा। पहले यह मास्टर प्लान पहले 2031 तक के आधार पर बनाया गया था। अब पूरी तैयारी वर्ष 2047 की आबादी को ध्यान में रखकर की जाएगी। 

राजधानीवासियों से सुझाव दिए जाने की अपील 
मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, राजधानी का सुव्यवस्थित विकास हो और नागरिकों को सभी बुनियादी सुविधाएं सुलभ तरीके से मिलें, इसके लिए सभी आवश्यक प्रावधान किए जाएंगे। साथ ही उम्मीद जताई कि भोपाल के नागरिक अपनी जिम्मेदारी समझते हुए मास्टर प्लान के लिए अपने सुझाव देंगे। जनप्रतिनिधियों के सुझावों को भी मास्टर प्लान में समावेश किया जाएगा। 
 
भोपाल मास्टर प्लान के प्रमुख बिन्दु

  • भोपाल मास्टर प्लान का नए सिरे से ड्रॉफ्ट तैयार किया जाएगा। सम्पूर्ण प्रक्रिया दिसम्बर-2024 तक पूर्ण की जाएगी।
  • पूर्व के मास्टर प्लान के ड्रॉफ्ट में प्राप्त सुझाव और आपत्तियों को ध्यान में रखकर नवीन ड्रॉफ्ट मई-2024 में प्रकाशित किया जाएगा।
  • नवीन मास्टर प्लान 2031 की बजाय अब 2047 तक की आबादी और जरूरतों के आधार पर तैयार होगा। 
  • मास्टर प्लॉन के वर्तमान ड्रॉफ्ट में मिलीं 5 हजार से अधिक आपत्तियां को ध्यान में रखकर नया ड्रॉफ्ट मई में बनेगा। 
  • 30 फीसदी कम्पाउंडिंग नकद भुगतान करने अगस्त-2024 तक विशेष अभियान चलाया जाएगा। 
5379487