Logo
election banner
हरियाणा के बावल में बीती देर शाम मनी ट्रांसफर व आधार कार्ड से पैसे निकालने वाले दुकानदार पर तीन बदमाशों ने बंदूक के बट से हमला कर घायल कर दिया। फिर आरोपी गल्ले से 81 हजार रुपये व मोबाइल लूटकर बाइक पर सवार होकर फरार हो गए।

रेवाड़ी। वीरवार की रात बावल के कन्या स्कूल के पास मनी ट्रांसफर का कार्य करने वाले एक दुकानदार के साथ नकाबपोश तीन लोगों ने बंदूक के बल पर लूट की वारदात को अंजाम दिया। आरोपी बंदूक के बट से दुकानदार से मारपीट करते हुए 81 हजार रुपये और मोबाइल फोन लूट लिया। दुकानदार के शोर मचाने पर जब तक आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तब तक आरोपी बाइक पर सवार होकर फरार हो चुके थे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर आसपास लगे सीसीटीवी की सहायता से तलाश शुय कर दी है।

पहले दो युवकों ने 81 हजार रुपये दिए और फिर तीन ने लूट लिए

अस्पताल में उपचाराधीन बावल के चतुर्वेदी मोहल्ला निवासी दशरथ ने पुलिस को बताया कि उसकी आधार कार्ड से पैसे निकालने और मनी ट्रांसफर करने की दुकान है। वीरवार देर सायं उसके पास दो युवक आए। उन्होंने कहा कि यह 81 हजार रुपये रख लो। आपके पास जोरावर का फोन आएगा। वह जिस खाते में कहे, उसमें यह राशि ट्रांसफर कर देना। जिसके बाद उसने 81 हजार रुपये अपने पास रख लिए। रात को करीब 9 बजे उसके पास तीन युवक बाइक से आए। एक ने हेलमेट लगाए हुआ था, जबकि दो ने कपड़े से मुंह ढका हुआ था।

हेलमेट पहने हुए थे तीनों बदमाश

दुकानदार ने बताया कि दुकान पर आए तीन युवकों में से एक ने उस पर बंदूक तान दी और कहा कि जो कुछ भी है, वह सब निकालकर उन्हें दे दो। इसके बाद आरोपियों ने उस पर बंदूक के बट से हमला कर घायल कर दिया तथा गल्ले से 81 हजार की नकदी व मोबाइल लूट लिया। उसके शोर मचाने पर आसपास के लोग मौके पर आए। तब तक आरोपी बाइक पर सवार होकर रेवाड़ी की तरफ भाग गए।  सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। दशरथ को उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिस ने उसके बयान पर केस दर्ज करने के बाद आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से बदमाशों का पता लगाने के प्रयास शुरू कर दिए।

हर माह मूंह ढांपकर आता था ग्राहक

दशरथ ने बताया कि उसके पास हर माह एक युवक मुंह पर कपड़ा बांधकर मनी ट्रांसफर कराने के लिए आता था। उसका इंडियन बैंक में खाता है। वह बावल या तिहाड़ा के आसपास का रहने वाला है। उसे शक है कि उसी युवक ने उसके साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने बैंक खाते के आधार पर संदेहास्पद युवक का पता लगाने के प्रयास भी शुरू कर दिए।

5379487