Logo
election banner
हरियाणा के यमुनानगर में एंटी नारकोटिक्स सेल टीम ने 420 ग्राम हेरोइन के साथ 2 नशा तस्करों को काबू किया। बाजार में पकड़ी गई हेरोइन की कीमत करीब 20 लाख बताई जा रही है। पकड़े गए आरोपियों में से एक आरोपी तशा तस्करी के सात केसों में एक साल से फरार था। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

Yamunanagar: जिला एंटी नारकोटिक्स सेल की टीम ने कलानौर नाके के पास से 420 ग्राम हेरोइन के साथ दो नशा तस्करों को गिरफ्तार किया। आरोपियों से पकड़ी गई हेरोइन की कीमत करीब 20 लाख रुपए आंकी गई है। बताया जा रहा है कि पकड़े गए आरोपियों में से एक आरोपी एनडीपीएस एक्ट के सात केसों में एक साल से फरार चल रहा था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें रिमांड पर लिया गया है।

गुप्त सूचना के आधार पर पकड़े नशा तस्कर

डीएसपी राजेश कुमार ने बताया कि एंटी नारकोटिक सेल के इंचार्ज रविकांत को सूचना मिली थी कि कुछ हेरोइन तस्कर उत्तर प्रदेश से हेरोइन लेकर यमुनानगर आएंगे। सूचना मिलते ही एएसआइ जसवीर सिंह हैप्पी, सतीश कुमार, राजेंद्र व बीरबल की टीम का गठन किया। टीम ने कलानौर बार्डर पर नाकाबंदी की। इसी दौरान पुलिस को दो युवक बाइक पर आते दिखाई दिए। पुलिस ने दोनों युवकों को रोककर उनसे पूछताछ की तो उनकी पहचान वीनानगर कैंप निवासी योगेश उर्फ मच्छर व उत्तर प्रदेश के गांव घाटोपुर निवासी राशिद के रूप में हुई। तलाशी के दौरान आरोपी योगेश से 330 ग्राम व राशिद से 90 ग्राम हेरोइन बरामद हुई है।

सात केसों में एक साल से चल रहा था फरार

डीएसपी राजेश कुमार ने बताया कि आरोपित योगेश एनडीपीएस एक्ट के सात केसों में एक वर्ष से फरार चल रहा था। पुलिस को उसकी लंबे समय से तलाश थी। वहीं राशिद हेरोइन तस्करी का मुख्य आरोपित है। उसके पास से ही जिले में अधिकतर लोगों तक हेरोइन पहुंचती है। इन आरोपितों के पकड़े जाने से काफी हद तक जिले में हेरोइन तस्करी पर अंकुश लगेगा। उन्होंने बताया कि आरोपियों को रिमांड पर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

5379487