Logo
हरियाणा के यमुनानगर में अज्ञात व्यक्ति ने मां बेटे की हत्या कर दी। महिला के नाक से खून बह रहा था, जबकि लड़के के गले पर निशान मिले हैं। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस मामले में पड़ोस में लगे सीसीटीवी को खंगाल रही है।

Yamunanagar: आजाद नगर गली नंबर दो में रविवार को अज्ञात व्यक्ति ने मां बेटे की हत्या कर दी। महिला के नाक से खून बह रहा था, जबकि लड़के के गले पर निशान मिले हैं। दोनों के शव घर में अलग-अलग कमरे में पड़े मिले। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। हादसे की सूचना मिलते ही डीएसपी, शहर थाना प्रभारी व सीआईए पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी। पुलिस मामले में अज्ञात आरोपी की तलाश कर रही है।

घर में अकेले थे मां बेटा, बेटी गई थी बाहर

आजाद नगर गली नंबर दो निवासी काजल ने बताया कि 2007 में उसके पिता की मौत हो गई थी। पहले वह सावन पुरी कॉलोनी में रहते थे। कुछ महीने पहले ही उन्होंने आजाद नगर में मकान खरीदा था। जहां पर वह अपनी 45 वर्षीय मां मीना तथा 22 वर्षीय भाई राहुल के साथ रह रही थी। उसका भाई फाइनेंस कंपनी में काम करता था। वह शहर के प्यारा चौक स्थित मोबाइल शॉप पर सेल्समैन का काम करती है। रविवार को छुट्टी होने के कारण उसकी मां व भाई घर पर ही थे। वह दोपहर को ब्यूटी पार्लर पर गई थी। दोपहर करीब ढाई बजे उसकी मां का उसके पास फोन आया कि आते हुए दो गिलास जूस लेकर आना। फोन आने के 15 मिनट बाद वह घर पर पहुंची।

2 अलग-अलग कमरों में मृत पड़े मां व भाई

काजल ने बताया कि जब वह घर पहुंची तो देखा कि उसकी मां व भाई घर में अलग अलग कमरे में मृत पड़े हैं। उसकी मां के नाक से खून बह रहा था जबकि भाई के गले पर किसी चीज से घोटने के निशान थे। उसने मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही डीएसपी अभिलक्ष जोशी, शहर थाना प्रभारी जगदीश चंद्र तथा सीआईए की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस जांच के दौरान घर में लगे सीसीटीवी बंद मिले। इस दौरान पुलिस ने पड़ोस में लगे सीसीटीवी की जांच की। जहां से पुलिस को कुछ सुराग हाथ लगे हैं। मां बेटे की हत्या क्यों व किस कारण की गई है, अभी इसका कोई भी सुराग नहीं लग पाया है। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी।

मृतक महिला के मोबाइल से डायल 112 पर किया गया था फोन

बताया जा रहा है कि शाम करीब चार बजे मृतक मीना के मोबाइल से डायल 112 पर फोन किया गया था। जिसमें कहा गया था कि उनके घर में किसी ने चोरी कर ली है। जब डायल 112 की टीम वहां पहुंची और उसके मोबाइल पर फोन करती रही तो किसी ने फोन नहीं उठाया। डबल मर्डर केस में पुलिस को घर के सदस्यों की भूमिका संदिग्ध लग रही है। डीएसपी अभिलक्ष जोशी ने बताया कि पुलिस टीम ने मृतकों के पड़ोस में लगे सीसीटीवी की जांच की है, जिसमें कुछ फुटेज मिले हैं। डबल मर्डर केस में एक से ज्यादा लोगों का हाथ है। मामले में पुलिस को सुराग हाथ लगे हैं। जल्द ही आरोपियों का पता लगाकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487