Logo
election banner
हरियाणा स्टेट एनफोर्समेंट ब्यूरो तथा हरियाणा पावर यूटिलिटी की 22 टीमों ने 13 जनवरी को प्रदेश के अलग अलग स्थानों पर छापेमारी की। टीम ने 376 स्थानों पर छापे मारे तथा बिजली चोरी के 158 कनेक्शन पकड़े। टीम में 500 पुलिसकर्मी व 50 अधिकारी शामिल रहे।

Haryana Enforcement Bureau Action News। हरियाणा स्टेट एनफोर्समेंट ब्यूरो तथा हरियाणा पावर यूटिलिटी  द्वारा हरियाणा प्रदेश में 13 जनवरी को बिजली चोरी करने वालों  के खिलाफ विशेष अभियान चलाया गया। इस दौरान प्रदेश में कमर्शियल तथा डोमेस्टिक मिलाकर 376 स्थानो पर छापेमारी करते हुए बिजली के कनेक्शन चेक किए गए जिनमें से 158 कनेक्शन बिजली चोरी संबंधी अलग-अलग मामलों में सामने आए।

700 पुलिस कर्मियों भी टीम में थे शामिल

इस बारे में जानकारी देते हुए हरियाणा स्टेट एनफोर्समेंट ब्यूरो के एडीजीपी एएस चावला ने बताया कि विशेष बिजली चोरी अभियान के तहत प्रदेश भर में 22 टीमों का गठन किया गया था जिन में हरियाणा स्टेट एनफोर्समेंट ब्यूरो के 500 पुलिसकर्मी तथा हरियाणा पावर यूटिलिटी के 70 अधिकारी तथा कर्मचारी शामिल थे। उन्होंने बताया कि अभियान के तहत 376 बिजली के कनेक्शन/ परिसर चेक किए गए। उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान तीन औद्योगिक इकाइयों की चेकिंग करते हुए 34.81 किलोवाट, 55 नॉन डोमेस्टिक श्रेणी में 269.19 किलोवाट, 66 डोमेस्टिक श्रेणी में 197.19 किलो वाट तथा दो कृषि श्रेणी में 9.02 किलो वाट की सीधे बिजली चोरी के मामले सामने आए। इसके साथ ही रेड के दौरान तीन कनेक्शन रीसेल आफ पावर, 8 कनेक्शन श्रेणी बदलने तथा 21 कनेक्शन लोड बढ़ाने संबंधी सामने आए। इस प्रकार, अभियान के तहत की गई रेड में 158 कनेक्शन अलग-अलग श्रेणियो में बिजली चोरी करते पाए गए।

चोरी छोड़ सही रास्ते पर आ जाए बिजली चोर

एएस चावला ने बताया कि हरियाणा स्टेट एनफोर्समेंट ब्यूरो द्वारा की गई इस बड़ी कार्रवाई से बिजली चोरी करने वालों को यह स्पष्ट संदेश देने का प्रयास किया गया है कि वे बिजली चोरी ना करें और जो लोग बिजली चोरी कर रहे हैं वे सही रास्ते पर आ जाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का प्रयास है कि बिजली चोरी को समाप्त करते हुए लाइन लॉस को कम से कम किया जाए। उन्होंने कहा कि ब्यूरो द्वारा भविष्य में भी इसी प्रकार यह अभियान चलाते हुए कार्यवाही की जाएगी और दोषियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई होगी।

5379487