Logo
हरियाणा में राज्यसभा सांसद सुभाष बराला ने बीजेपी उम्मीदवारों के विरोध और हमले के पीछे कांग्रेस का हाथ बताया है। बराला ने कहा कि किसान भोले भाले हैं। उन्हें आगे करके वह राजनीतिक षड्यंत्र रच रहे हैं।

Haryana Lok Sabha Election 2024: हरियाणा में लोकसभा चुनाव की जैसे-जैसे तारीख नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे प्रदेश में सियासी माहौल गरमाया हुआ है। जहां एक तरफ आरोप-प्रत्यारोप जारी है। वहीं, दूसरी ओर प्रदेश में बीजेपी उम्मीदवारों को जगह-जगह विरोध का सामना भी करना पड़ रहा है। इसके अलावा कई जगह उम्मीदवारों के काफीले पर हमला भी किया गया।

उम्मीदवारों के विरोध के पीछे कांग्रेस का हाथ- सुभाष बराला

प्रदेश में उम्मीदवारों के विरोध और काफिले पर हमले को बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुभाष बराला ने राजनीतिक षड्यंत्र बताया है। उन्होंने इसके पीछे कांग्रेस के लोगों का हाथ बताया है। बराला ने कहा कि किसान भोले भाले हैं, जो इस प्रकार के बहकावे में आ जाते हैं। किसानों को आगे करके वह राजनीतिक षड्यंत्र रच रह हैं, ताकि किसान बदनाम हो, बीजेपी बदनाम हो। पहले भी इस तरह की हरकतें एक्सपोज हुई हैं और भविष्य में भी एक्सपोज होंगी।

किसानों की आड़ में षड्यंत्र- बराला

बता दें कि फतेहाबाद ने जाखल में शुक्रवार 17 मई को बीजेपी उम्मीदवार डॉ. अशोक तंवर के काफिले पर हमला हुआ था। वह और अशोक तंवर जाखल में हनुमान चालीसा के पाठ में शामिल होने के लिए वहां पहुंचे थे। इस दौरान ही उनके काफिले पर हमला हुआ था। इस पर आज शनिवार को राज्यसभा सांसद सुभाष बराला ने कहा कि यह हमला सुनियोजित था। किसानों की आड़ में यह राजनीतिक षड्यंत्र है। इसके पीछे कांग्रेस के लोगों का हाथ है।

बराला ने आगे कहा कि वह लगातार कई दिनों से प्रदेश के हर क्षेत्र में जा रहे हैं। जहां कहीं पर कोई किसान बात करने आता है, तो वह उनसे बात करते हैं। जाखल में भी पहले गए थे और वहां भी किसानों से बातचीत की थी। उस समय इस तरह का कोई तनाव नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि इस तरह के घटनाक्रम की प्लानिंग पहले से हो जाती है। इसके बाद ही ऐसा कुछ होता है।

jindal steel hbm ad
5379487