Logo
हरियाणा के सोनीपत में चुनावी ड्यूटी के दौरान बतौर सहायक पीठासीन अधिकारी बनकर गए शिक्षा विभाग के क्लर्क की हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। वहीं, जिला उपायुक्त ने घटना पर शोक प्रकट किया।

सोनीपत/राई: गांव सेरसा में चुनावी ड्यूटी पर बतौर सहायक पीठासीन अधिकारी बनकर गए शिक्षा विभाग के क्लर्क का हृदयाघात से निधन हो गया। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया। प्रशासन की तरफ से उनके परिवार को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया गया है।

शिक्षा विभाग में क्लर्क के पद पर था तैनात

मूलरूप से गांव गंगाना फिलहाल शिव कॉलोनी सोनीपत निवासी वीरेंद्र सिंह शिक्षा विभाग में क्लर्क के पद पर थे। वह गांव पुगथला के राजकीय स्कूल में कार्यरत थे। लोकसभा चुनाव को लेकर उनकी ड्यूटी गांव सेरसा के मतदान केंद्र पर सहायक पीठासीन अधिकारी के तौर पर लगी थी। वह शुक्रवार शाम को ईवीएम मशीन लेकर केंद्र पर पहुंच गए थे। अचानक उन्हें सीने में दर्द हो गया। उन्हें प्रशासनिक अमले ने तुरंत कुंडली के निजी अस्पताल में भर्ती कराया। वहां से सोनीपत रेफर कर दिया। उन्हें बहालगढ़ रोड स्थित अस्पताल में उपचार दिलाया गया, जहां रात को उनका निधन हो गया। पुलिस ने शनिवार सुबह शव का पोस्टमार्टम कराया।

चुनावी ड्यूटी के दौरान हुआ निधन

जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. मनोज कुमार ने बताया कि चुनावी ड्यूटी पर तैनात कर्मी का निधन हो गया। उनके परिवार को प्रदेश सरकार के सभी लाभ दिलाएं जाएंगे। एक्सग्रेसिया के पात्र होने पर उनका केस भिजवाया जाएगा। साथ ही निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के अनुसार उनकी तरफ से भी आर्थिक मदद दिलाई जाएगी।

jindal steel hbm ad
5379487