Logo
हरियाणा के फरीदाबाद में राशन डिपो की गाड़ी को रुकवाकर डिपो धारक, उसके चालक को बंधक बना लिया। चार घंटे तक गाड़ी को नहीं छोड़ा और पीड़ितों को जाने नहीं दिया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को देखकर आरोपी मौके से फरार हो गया।

Faridabad: राशन डिपो की गाड़ी को रुकवाकर डिपो धारक, उसके चालक को बंधक बना लिया। चार घंटे तक गाड़ी को नहीं छोड़ा और पीड़ितों को जाने नहीं दिया। सूचना पाकर डायल 112 पुलिस टीम आई, तब जाकर लोगों को छोड़ा गया। थाना धौज में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी। आरोपी चाकू की नोंक पर सरकारी राशन मांग रहा था और राशन न देने पर इस घटना को अंजाम दिया गया।

चाकू की नोंक पर बनाया बंधक

गांव सिलाखड़ी निवासी समशुद्दीन ने थाने में दी शिकायत में बताया कि उसके पास गांव सिलाखड़ी सहित पावटा, गोठड़ा मोहब्बताबाद के राशन डिपो हैं। 10 जून को वह अपने डिपो के लिए गेंहू के कट्टे तिगांव स्थित अनाज गोदाम से ला रहे थे। गोठडा मोहब्बताबाद के गोदाम पर 189 कट्टे उतारकर गाड़ी पावटा के लिए चल दी। वह गाड़ी के आगे बाइक पर चल रहा था। तभी पावटा के रास्ते गोठड़ा मोहब्बताबाद का रहने वाला राजेंद्र भड़ाना मिल गया। उसने चाकू की नोंक पर उसे और उसकी गाड़ी को रुकवा लिया। गाड़ी के चालक अर्जुन को गाली दी। सभी को खींचकर स्टेडियम के पास ले गया। वहां धमकी देकर बिठा दिया।

चाकू के बल पर मांगा सरकारी राशन

पीड़ित ने बताया कि आरोपी ने कार चालक अर्जुन का फोन छीनकर तोड़ दिया। वह चाकू के बल पर सरकारी गेहूं मांगने लगा। समशुद्दीन ने कहा कि यह सरकारी राशन है, ऐसे नहीं दे सकते। इस पर उसने उन्हें चार घंटे तक बंधक बनाए रखा। इसके बाद इस मामले की सूचना डायल 112 पर दी। वहां से पुलिस टीम आई लेकिन आरोपी ने उनके साथ भी बहस की। मुश्किल से उन्हें छोड़ा। आरोपी वहां से भाग गया। अब पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

jindal steel hbm ad
5379487