Logo
election banner
IPL Vs WPL: वीमेंस प्रीमियर लीग (WPL) के दूसरे सीजन की शुरुआत हो चुकी है। लीग के पहले 11 मुकाबले बेंगलुरु के एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जाएंगे। वहीं 22 मार्च से इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 17वें सीजन की शुरुआत होगी।

IPL Vs WPL: वीमेंस प्रीमियर लीग (WPL) के दूसरे सीजन की शुरुआत हो चुकी है। लीग के पहले  11 मुकाबले बेंगलुरु के एम.चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जाएंगे। वहीं 22 मार्च से इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 17वें सीजन की शुरुआत होगी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने अभी IPL 2024 के पहले  17 दिन का शेड्यूल ही जारी किया है। यूं तो  IPL और WPL के ज्यादातर नियम एक समान हैं, लेकिन कुछ रूल्स थोड़े अलग भी हैं। इस खबर में हम आपको इन्हीं अलग नियमों के बारे में बता रहे हैं।

इम्पैक्ट प्लेयर का नियम
IPL में पिछले सीजन से इम्पैक्ट प्लेयर रूल लागू हुआ। इस नियम के तहत IPL के किसी भी मैच में दोनों टीमों को पहली गेंद फेंके जाने से पहले प्लेइंग 11 के अलावा 4-4 सब्स्टीट्यूट प्लेयर के नाम देने होंगे। दोनों टीमों की तरफ से इन्हीं 4 प्लेयर्स में किसी 1 को पारी के 14वें ओवर की समाप्ति से पहले इम्पैक्ट प्लेयर के रूप में लाया जा सकता है। यह खिलाड़ी किसी अन्य प्लेयर की तरह ही गेंदबाजी और बल्लेबाजी कर सकते हैं। वहीं इम्पैक्ट प्लेयर की आने के बाद जो खिलाड़ी मैदान से बाहर जाएगा उसकी फिर से एंट्री नहीं होगी। मैच 10 ओवर से अधिक का हुआ तो ही इम्पैक्ट प्लेयर का नियम लागू होगा। WPL में यह नियम लागू नहीं होता है।

ये भी पढ़ें: Sobhana Asha: पिता ड्राइवर, बेटी ने विमेंस प्रीमियर लीग में रचा इतिहास; पढ़ें संघर्ष से सफलता तक का सफर

प्लेइंग 11 में 4 विदेश खिलाड़ी
IPL में सभी फ्रेंचाइजी ज्यादा से ज्यादा 4 विदेशी प्लेयर्स को प्लेइंग 11 में शामिल कर सकती हैं। हालांकि, WPL में भी यही नियम लागू होता है, लेकिन WPL में अगर किसी टीम के पास एसोसिएट देश की खिलाड़ी हैं तो वह उन्हें मैदान पर उतार सकती है। यानी कि यह टीम 5 विदेशी प्लेयर्स के साथ मैदान पर उतर सकती है। 

WPL से अलग है IPL का फॉर्मेट
इंडियन प्रीमियर लीग में 10 टीमों के बीच तो वीमेंस प्रीमियर लीग में 5 टीमों के बीच खिताबी भिड़ंत होती है। ऐसे में दोनों ही लीग का फॉर्मेट अलग-अलग है। IPL में सभी टीमें ग्रुप स्टेज में 14 मुकाबले खेलती हैं। दूसरी ओर WPL में सभी टीमें अन्य 4 टीमों के खिलाफ 2-2 मैच खेलती हैं। ऐसे में 1 टीम कुल 8 मैच खेलती है। IPL में लीग स्टेज की टॉप 4 टीमें प्लेऑफ में जगह बनाती हैं। इसके बाद क्वालिफायर 1 में टॉप 2 टीमें टकराती हैं। इस मैच की विजेता सीधे फाइनल में पहुंचती है। तीसरे और चौथे पायदान पर रहने वाली टीमें एलिमिनेटर खेलती हैं। इस मैच की विजेता टीम का सामना क्वालिफायर 2 में क्वालिफायर 1 हारने वाली टीम से होता है। वहीं WPL में लीग स्टेज के बाद पॉइंट्स टेबल में टॉप पर रहने वाली टीम सीधे फाइनल में प्रवेश करती है। वहीं दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम एलिमिनेटर खेलती हैं। इस मैच की विजेता टीम फाइनल में जगह पक्की करती है। 

इन नियमों ने नहीं हुआ कोई बदलाव
इंडियन प्रीमियर लीग की तरह ही विमेंस प्रीमियर लीग में भी प्रत्येक टीम को हर पारी में 2 DRS मिलते हैं। मैच के दौरान दोनों पारियों को मिलाकर कुल 4 स्ट्रैटेजिक टाइम आउट होते हैं। IPL की तरह ही WPL में मैच जीतने वाली टीम को 2 अंक दिए जाते हैं। अगर मैच बेनतीजा रहता है तो दोनों टीमों को 1-1 अंक मिलता है। साथ ही मैच टाई होने पर सुपर ओवर से विजेता का फैसला होता है।

ये भी पढ़ें: IPL 2024: टीम इंडिया से बाहर चल रहा यह खिलाड़ी आईपीएल में मचाएगा गदर, निशाने पर होगा कोहली का विराट रिकॉर्ड

jindal steel Ad
5379487