Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अजहर ने हैदराबाद क्रिकेट संघ को दी कोर्ट में चुनौती

अजहर ने हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया था।

अजहर ने हैदराबाद क्रिकेट संघ को दी कोर्ट में चुनौती
नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने मंगलवार को हैदराबाद क्रिकेट संघ के अध्यक्ष पद के चुनावों को अदालत में चुनौती दे दी। बता दें कि अध्यक्ष पद के लिए अजहर ने अपना नाम दिया था जिसे रद्द कर दिया गया था। तभी से वह इस फैसले से बेहद दुखी थे।
तभी नामांकन रद्द होने के बाद अजहर ने कहा था कि वे हैदराबाद क्रिकेट की हालत सुधारना चाहते हैं। उन्होंने ये भी कहा था कि हैदराबाद टीम रणजी के सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंची, वहीं अहम खिलाड़ी टीम छोड़कर जा रहे हैं। अजरुद्दीन ने ये आरोप भी लगाया था कि हैदराबाद क्रिकेट संघ में में भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार बेहद ज्यादा है। उनके मुताबिक अंडर 14 क्रिकेट में हर मैच में 6 नए खिलाड़ी शामिल कर लिए जाते हैं। अजहरुद्दीन ने 99 टेस्ट मैच खेले और 22 शतक के साथ 6 हज़ार से ज्यादा रन और 334 वनडे में 7 शतकों के साथ 9 हजार से ज्यादा रन बनाए थे, लेकिन साल 2000 में मैच फिक्सिंग की वजह से बीसीसीआइ ने उनपर लाइफ टाइम बैन लगा दिया था।
हालांकि 8 नवंबर 2012 को आंध्रप्रदेश हाईकोर्ट ने सबूतों के अभाव में अजहरुद्दीन से लाइफ बैन को हटाने की बात कही थी। अपने नामांकन के रद्द होने के बाद अजहर ने प्रेस से बात करते हुए अपनी नाराजगी जताई थी। उन्होंने कहा था कि ये पूरी प्रक्रिया ही मुझे धोखाधड़ी से भरी हुई लगती है। उन्होंने चुनाव में लगातार देरी की। उन्होंने मुझसे जो भी सवाल पूछे मैंने उसका जवाब दिया उन्होंने बीसीसीआइ के बारे में पूछा तो मैंने उन्हें कोर्ट का ऑर्डर दिखाया।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top