Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चलती ट्रेन में कपड़े बदलने टॉयलेट गई पत्‍नी हुई लापता, आगे की कहानी में आया ये नया मोड़

रिपोर्ट के अनुसार, महिला (Woman) अपने पति को छोड़ प्रेमी के पास गोरखपुर (Gorakhpur) भाग गई थी। धनबाद रेलवे पुलिस (Dhanbad Railway Police) ने महिला को गोरखपुर से बरामद कर उसके घरवालों को सौंप दिया।

चलती ट्रेन में कपड़े बदलने टॉयलेट गई पत्‍नी हुई लापता, आगे की कहानी में आया ये नया मोड़
X

मौर्य एक्सप्रेस (Maurya Express) में रांची (Ranchi) से अपने पति के साथ अपनी ससुराल लखीसराय जा रही महिला चलती ट्रेन में कपड़े बदलने टॉयलेट (Toilet) गई और लापता हो गई। महिला के पति पत्नी के न मिलने पर परेशान होगा। इसके बाद व्यक्ति को शक था कि शायद उसकी पत्नी का किसी ने अपहरण कर लिया हो। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

रिपोर्ट के अनुसार, महिला (Woman) अपने पति को छोड़ प्रेमी के पास गोरखपुर (Gorakhpur) भाग गई थी। धनबाद रेलवे पुलिस (Dhanbad Railway Police) ने महिला को गोरखपुर से बरामद कर उसके घरवालों को सौंप दिया। परिजनों ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Jharkhand Chief Minister Hemant Soren) से गुहार लगाई तो रेल पुलिस ने उन्हें गोरखपुर से ढूढ़ निकाला।

खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक महिला 12 जुलाई 2021 की रात मौर्य एक्सप्रेस के धनबाद स्टेशन (Dhanbad Station) पहुंचने के बाद कपड़े बदलने की बात कह टॉयलेट गई थी। इसके महिला वापस नहीं लौटी तो उसके पति ने मामले की शिकायत धनबाद रेलवे पुलिस से की। पति लखीसराय (Lakhisarai) निवासी अजीत कुमार (Ajit Kumar) ने 5-5 अज्ञात सह यात्रियों पर पत्नी को अगवा करने का आरोप लगाया था। महिला के परिजन ने मामले की शिकायत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) से की तो रेल पुलिस ने सक्रियता बढ़ाई और महिला को गोरखपुर से बरामद कर लिया।

अजीत (Ajit) के साथ उस महिला की शादी साल 2019 के अंत में हुई थी। अजीत एक कंपनी में सेल्स का काम करता है। शादी के बाद पति उसे ससुराल (In law's house) नहीं ले गया था। इसी बीच उसकी पहचान सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक (Facebook) पर एक लड़के से हुई। दोनों के बीच प्यार (Love) हो गया। पहली बार पति उसे लेकर ससुराल जा रहा था। उसके प्रेमी को यह बात नागवार गुजरी।

महिला धनबाद स्टेशन (Dhanbad Station) से बाहर आकर बस से पहले वाराणसी (Varanasi) गई। वहां से वह अपने प्रेमी के पास गोरखपुर (Gorakhpur) चली गई। उसके प्रेम-प्रसंग की भनक उसके घरवालों को भी थी। इसलिए ससुराल जाते समय उसका मोबाइल सिम निकाल लिया गया था लेकिन वह वाईफाई के जरिए व्हाट्सएप (Whatsapp) पर अपने प्रेमी से संपर्क में थी। पुलिस मोबाइल लोकेशन (Mobile Location) के आधार पर ही उस तक पहुंच गई।

Next Story