Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Union Budget Highlights : 10 लाख तक की सैलरी व पेंशन पर हो सकता है टैक्स माफ, श्रमिक संघ के नेताओं ने की मांग

मजदूर संगठनों के नेताओं ने वित्त मंत्री एवं कॉरपोरेट मामले के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ बजट से पहले एक बैठक किए। जिसमें श्रमिकों के प्रतिनिधियों का कम से कम वेतन 20 हजार रूपए करने व मनरेगा के तहत कम से कम 200 दिन का रोजगार की मांग की। साथ ही उन्होंने कहा कि कम से कम 6 हजार रूपए मासिक पेंशन की भी मांग की।

Union Budget 2019 Highlights
X
Union Budget 2019 Highlights

मजदूर संगठनों के नेताओं (Labour Union Leaders) ने वित्त मंत्री एवं कॉरपोरेट मामले के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Singh Thakur) के साथ बजट से पहले एक बैठक किए। जिसमें श्रमिकों के प्रतिनिधियों का कम से कम वेतन 20 हजार रूपए करने व मनरेगा (MNRG) के तहत कम से कम 200 दिन का रोजगार की मांग की। साथ ही उन्होंने कहा कि कम से कम 6 हजार रूपए मासिक पेंशन की भी मांग की।

बैठक में यूनियन के नेताओं ने कहा कि वेतनधारी व पेंशनर्स को 10 लाख रूपए तक की आमदनी पर कोई टैक्स न लिया जाए। इनमें सैलरीधारक व पेंशनधारक लोग भी शामिल हैं। यूनियन के नेताओं ने सरकार से कहा कि वरिष्ठ नागरिकों के लिेए भी टैक्स की सीमा बढ़ाकर 8 लाख रूपए तक की जाए।

Image Credit : Twitter


बता दें कि करीब 12 से ज्यादा मजदूर संघ के नेताओं ने वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर के साथ बैठक की जिसमें यूनियन के नेताओं ने कहा कि लाभ कमा रही सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों का निजीकरण व विनिवेश पर लगाम लगाया जाए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में बेरोजगारी चरम पर है इसके लिए जरूरी है कि रोजगार सृजन के अवसर बढ़ाया जाए।

बैठक में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) मौजूद नहीं थीं जिसके कारण उन्होंने नाराजगी भी व्यक्त की। बता दें कि निर्मला नीति आयोग (NITI Ayog) की बैठक में हिस्सा लेने चली गई थीं जिसके कारण अनुराग ठाकुर को इस बैठक की अध्यक्षता करनी पड़ी।

अखिल भारतीय व्यापार यूनियन कांग्रेस के महासचिव अमरजीत कौर ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने हमें बजट (Union Budget 2019) से पूर्व बैठक कर सलाह देने की बात कही थी इसीलिए हम यहां आए और वे यहां बैठक में हिस्सा नहीं लीं।

Image Credit : Twitter


उन्होंने कहा कि हमारी बातचीत राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर से हो गई है। वे चार बिंदुओं पर बात किए। ये हैं चार महत्वपूर्ण बिंदु- श्रमिकों का संरक्षण, कौशल विकास योजना, केंद्रीय श्रमिकों का न्यूनतम वेतनमान 20 हजार रूपए, 6 हजार का न्यूनतम मासिक पेंशन और 200 दिन मनरेगा के तहत रोजगार की मांग की है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story