Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तीस हजारी कोर्ट ने चंद्रशेखर आजाद को दी जमानत, ये रखी शर्त

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को दिल्ली पुलिस ने जामा मस्जिद में नागरिकता संशोधन विधेयक (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के विरोध के बाद गिरफ्तार किया था।

तीस हजारी कोर्ट ने चंद्रशेखर आजाद को दी जमानत, ये रखी शर्त
X
भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद

दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट ने बुधवार को भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद को पिछले साल दिसंबर में दरियागंज में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के विरोध के मामले में जमानत दे दी है।

हालांकि, अदालत ने आजाद को चार सप्ताह दिल्ली से बाहार रहने का आदेश दिया है साथ ही कहा है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर किसी धरने में शामिल नहीं होंगे और न धरना करेंगे। बताया जा रहा है कि कोर्ट ने आजाद को 25 हजार रुपये के मुचलके पर जमानत दी है।

जज ने कहा है कि किसी विशेष परिस्थिति में आजाद सहारनपुर जाने से पहले अगर दिल्ली में जामा मस्जिद सहित कहीं भी जाना चाहते हैं तो 24 घंटे तक पुलिस उन्हें वहां ले जाएगी। फैसले के दौरान, आजाद की ओर से पेश वकील ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भीम आर्मी प्रमुख को खतरा है।

अदालत ने मंगलवार को दिल्ली पुलिस को आजाद के खिलाफ कोई सबूत दिखाने में विफल रहने के को लेकर फटकार लगाई थी। कोर्ट ने कहा था कि प्रदर्शन करना किसी भी व्यक्ति का संवैधानिक अधिकार है और दिल्ली पुलिस ऐसे बर्ताव कर रही है 'जैसे कि जामा मस्जिद पाकिस्तान है'। अदालत ने पुलिस जांच अधिकारी को उन सभी सबूतों को दर्ज करने के लिए कहा, जिनमें आजाद कथित रूप से जामा मस्जिद में सभा में भाषण दे रहे थे


Next Story