Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

वायु प्रदूषण मामले में पाकिस्तान से भी बुरी हालत में है भारत, एक रिपोर्ट में हुआ खुलासा

देश में वायु प्रदूषण से बुरे हालात देखने को मिल रहे हैं। इसी बीच अमेरिका के एक संस्थान ने एक रिपोर्ट में खुलासा किया है कि वायु प्रदूषण नवजातों पर कितना बुरा प्रभाव डाल रहा है। बता दें कि वायु प्रदूषण के मामले में भारत की स्थिति पाकिस्तान से भी बहुत ज्यादा खराब है।

वायु प्रदूषण मामले में पाकिस्तान से भी बुरी हालत में है भारत, एक रिपोर्ट में हुआ खुलासा
X

वायु प्रदूषण मामले में पाकिस्तान से भी बुरी हालत में है भारत, एक रिपोर्ट में हुआ खुलासा

देश में वायु प्रदूषण से बुरे हालात देखने को मिल रहे हैं। इसी बीच अमेरिका के एक संस्थान ने एक रिपोर्ट में खुलासा किया है कि वायु प्रदूषण नवजातों पर कितना बुरा प्रभाव डाल रहा है। बता दें कि वायु प्रदूषण के मामले में भारत की स्थिति पाकिस्तान से भी बहुत ज्यादा खराब है।

2019 में हुई 1.16 लाख

स्टेट ऑफ ग्लोबल एयर-2020 रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि भारत में वायु प्रदूषण नवजातों के लिए कितना खतरनाक साबित हो रहा है। आंकड़ों के मुताबिक, 2019 में वायु प्रदूषण के कारण 1.16 लाख से ज्यादा नवजातों की मौत हो गई। रिपोर्ट में बताया गया है कि इन सभी बच्चों की जन्म लेने के एक महीने के अंदर ही मौत हो गई है। बता दें कि इस रिपोर्ट में भारत, नाईजीरिया, पाकिस्तान और इथिपोया देशों को शामिल किया गया है। रिपोर्ट में ये भी जानकारी दी गई है कि नाईजीरिया में वायु प्रदूषण के कारण 67900, पाकिस्तान में 56700 और इथिपोया में 22900 नवजातों की मौत हुई।

आईसीएमआर ने दिया बयान

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के सेंटर ऑफ अडवांस रिसर्च ऑन एयर क्वालिटी की निदेशक कल्पना बालकृष्ण ने कहा है कि वायु प्रदूषण को एक इंसान कंट्रोल नहीं कर सकता। इसके लिए एक बड़ी जनसंख्या को साथ आना पड़ता है। सभी मिलकर इस खतरे को कम करने में अभी भागीदारी सिद्ध कर सकते हैं। अगर ऐसा नहीं होता है तो प्रदूषण के कारण एक बड़ी जनसंख्या पर हमेंशा खतरा मंडराता रहता है।

Next Story