Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुप्रीम कोर्ट ने अनिल देशमुख को दिया झटका, याचिका खारिज कर कहा- होनी चाहिए जांच

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस संजय किशन कौल और हेमंत गुप्ता (Justices Sanjay Kishan Kaul and Hemant Gupta) की बेंच ने अनिल देशमुख की याचिका को खारिज किया है।

सुप्रीम कोर्ट ने अनिल देशमुख को दिया झटका, याचिका खारिज कर कहा- होनी चाहिए जांच
X

सुप्रीम कोर्ट

महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख (Maharashtra Former Home Minister Anil Deshmukh) और राज्य सरकार को आज सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) की याचिका को खारिज कर दिया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस याचिका में सरकार और पूर्व मंत्री ने हाईकोर्ट (High Court) के आदेश को चुनौती दी थी।

जानकारी के अनुसार, बीते दिनों बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay high court) ने पूर्व मंत्री पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के खिलाफ केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI- सीबीआई) जांच के निर्देश दिए थे। अनिल देशमुख पर मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (Former Commissioner Parambir Singh) ने भ्रष्टाचार (Corruption) के आरोप लगाए थे।

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस संजय किशन कौल और हेमंत गुप्ता (Justices Sanjay Kishan Kaul and Hemant Gupta) की बेंच ने अनिल देशमुख की याचिका को खारिज किया है। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार (Uddhav Thackeray Government) का कहना था कि कोर्ट (Court) पूर्व गृहमंत्री (Ex Home Minister) को मौका दिए बगैर उनके खिलाफ जांच के निर्देश नहीं दे सकती है। वहीं पहले अनिल देशमुख ने कहा था, यदि सीएम (CM) चाहें तो जांच के निर्देश दे दें। मैं उसका स्वागत करूंगा।

मामले में जांच कराए जानें की जरूरत

खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस कौल (Justices Kaul) ने मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि आरोपों की गंभीरता और शामिल लोगों को देखते हुए इस मामले के संबंध में स्वतंत्र एजेंसी से जांच कराए जाने की आवश्यकता है। यह लोगों के विश्वास की बात है।

जस्टिस कौल ने यह भी कहा, जो भी निर्देश दिए गए हैं उसमें केवल शुरुआती जांच की बात है। यही कारण है कि हम किसी निर्देश में दखल नहीं देना चाहते हैं। मामले में शामिल 2 लोग अलग होने से पहले साथ काम कर रहे थे। दोनों उच्च पदों पर थे। ऐसे में एक स्वतंत्र जांच (Independent investigation) की आवश्यकता है।

Next Story