Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीएम मोदी-शरद पवार की मुलाकात पर रामदास अठावले बोले- NCP चीफ जैसा नेता एनडीए में आता है तो मजबूत होगा

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रामदास अठावले ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान शरद पवार से एमवीए सरकार से अपना समर्थन वापस लेने और इसके बजाय महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी से हाथ मिलाने की अपील की है।

पीएम मोदी-शरद पवार की मुलाकात पर रामदास अठावले बोले- NCP चीफ जैसा नेता एनडीए में आता है तो मजबूत होगा
X

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने रविवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शनिवार को हुई मुलाकात को लेकर बयान दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा है कि कल (शनिवार) को शरद पवार और प्रधानमंत्री मिले। शरद पवार के शिवसेना को समर्थन के माध्यम से उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बने, बीजेपी के साथ भी गठबंधन करने में कोई दिक्कत नहीं है। अगर शरद पवार जैसा नेता एनडीए में आता है तो एनडीए और मजबूत होगी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रामदास अठावले ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान शरद पवार से एमवीए सरकार से अपना समर्थन वापस लेने और इसके बजाय महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए भारतीय जनता पार्टी से हाथ मिलाने की अपील की है। इसके अलावा कहा कि मुझे लगता है कि महाराष्ट्र में भाजपा और एनसीपी की सरकार बननी चाहिए।

पीएम मोदी और शरद पवार के बीच हुई थी 57 मिनट बातचीत

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बीते शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शरद पवार के बीच बातचीत हुई थी। शरद पवार के कार्यालय की ओर से बताया गया है कि पीएम नरेंद्र मोदी के आवास पर हुई दोनों नेताओं के बीच यह बैठक 57 मिनट तक चली। इसके बाद एनसीपी नेता नवाब मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि दोनों नेताओं के बीच इस मुद्दे पर बातचीत हुई मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दोनों नेताओं के बीच किन मुद्दों पर बातचीत हुई है।

नवाब मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा था कि पीएम मोदी और शरद पवार में बातचीत कोऑपरेटिव बैंक के मुद्दे को लेकर हुई है। राजनीति, विचारों के आधार पर होती है, संघ का राष्ट्रवाद और राष्ट्रवादी पार्टी के राष्ट्रवाद में ज़मीन आसमान आ अंतर है। नदी के दो छोर कभी नहीं मिल सकते, ये सच्चाई है। भाजपा और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का एक साथ आना असंभव है।

और पढ़ें
Next Story