Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश में अब तक 54.72 लाख डोज स्टोरेज प्वाइंट पर पहुंची, कोरोना को लेकर नहीं बरत सकते कोताही: राजेश भूषण

भारत में कोविड-19 के सक्रिय मामले लगातार घट रहे हैं और अभी सक्रिय मामले 2.2 लाख से कम हैं। कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों में से सिर्फ 44 प्रतिशत मामले अस्पतालों में हैं और 56 प्रतिशत एक्टिव मामले होम आइसोलेशन में हैं।

Rajesh Bhushan says 54.72 lakh dose storage point reached in the country so far
X

स्वास्थ्य मंत्रालय सचिव राजेश भूषण

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी दी है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सचिव राजेश भूषण ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण की स्थिति अभी भी पूरे विश्व में चिंताजनक है हालांकि भारत में मामले घट रहे हैं लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि हम कोताही बरतें।

भारत में कोविड-19 के सक्रिय मामले लगातार घट रहे हैं और अभी सक्रिय मामले 2.2 लाख से कम हैं। कोरोना वायरस के एक्टिव मामलों में से सिर्फ 44 प्रतिशत मामले अस्पतालों में हैं और 56 प्रतिशत एक्टिव मामले होम आइसोलेशन में हैं।

उन्होंने आगे कहा कि फाइजर की वैक्सीन को अनेक देशों में इमरजेंसी यूज की अनुमति मिली है। इसका प्रति डोज का दाम 1,400 रुपये से अधिक है। मॉडर्ना की वैक्सीन का एक डोज 2,300-2,700 रुपये में उपलब्ध है।

भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से कोविडशील्ड वैक्सीन के 110 लाख डोज को 200 रुपये प्रति डोज के हिसाब से खरीदने का एग्रीमेंट किया है। भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख डोज खरीदने का फैसला किया है, जिनमें से 38.50 लाख डोज की कीमत 295 रुपये प्रति डोज है।

बीबीआईएल केंद्र सरकार को कोवैक्सीन की 16.50 लाख डोज मुफ़्त में मुहैया करा रहा है। इस हिसाब से कुल 55 लाख डोज में प्रति डोज की कीमत 206 रुपये होती है। अब तक देश में 54.72 लाख डोज स्टोरेज प्वाइंट पर पहुंच गई हैं और एक करोड़ दस लाख डोज 14 जनवरी तक पहुंच जाएंगे।

Next Story