Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

2018 में तेजाब हमलों के मामलों में आई मामूली गिरावट, यूपी में इतने मामले किए गए दर्ज

तेजाब हमले के लिए कम से कम दस साल की सजा का प्रावधान है। अपराध की प्रवृत्ति को देखते हुए जुर्माने के साथ सजा को बढ़ाया जा सकता है।

2018 में तेजाब हमलों के मामलों में आई मामूली गिरावट, यूपी में इतने मामले किए गए दर्जएनसीआरबी रिपोर्ट

भारत में साल 2018 में तेजाब हमलों में कुछ कमी देखने को मिली है। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के द्वारा जारी किए गए आंकड़े के अनुसार साल 2018 में पूरे भारत में तेजाब हमलों में मामूली गिरावट देखने को मिली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक साल 2017 में देशभर में तेजाब हमलों के मामलों की संख्या 244 थी। लेकिन साल 2018 में यह संख्या घटकर 228 हो गई है।

कहां कितने मामले सामने आये

* साल 2018 में पश्चिम बंगाल में तेजाब हमले के 36 मामले आये।

* साल 2018 में उत्तर प्रदेश में 32 तेजाब हमले के मामले आये।

* साल 2018 में तेलंगाना में 10 तेजाब हमले के मामले आये।

उत्तर प्रदेश में तेजाब हमलों में आई मामूली गिरावट

एनसीआरबी रिपोर्ट्स के मुताबिक साल 2017 में उत्तर प्रदेश में तेजाब हमले के 41 मामले दर्ज किए गए थे। जबकि साल 2018 में 32 मामले दर्ज किये गए हैं।

कम से कम दस साल की सजा का प्रावधान

मिली जानकारी के मुताबिक तेजाब हमले के लिए कम से कम दस साल की सजा का प्रावधान है। अपराध की प्रवृत्ति को देखते हुए जुर्माने के साथ सजा को बढ़ाया जा सकता है। यानी सजा 10 साल से बढ़ाकर आजीवन कारावास भी की जा सकती है। वहीं यौन अपराधों पर संशोधित कानून के साथ ऐसे मामलों में सजा का प्रावधान वाला एक अलग कानून भी पारित किया गया है।

Next Story
Top