Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Lockdown : प्रवासी मजदूरों और छात्रों के लिए गृह मंत्रालय ने नई गाइडलाइन जारी की, घर जा सकेंगे लोग

Lockdown : लॉक डाउन के बीच गृह मंत्रालय ने दूसरे राज्यों में फंसे लोगों के लिए नई गाइडलाइंस जारी कर दी है।

Lockdown : प्रवासी मजदूरों और छात्रों के लिए गृह मंत्रालय ने नई गाइडलाइन जारी की, घर जा सकेंगे लोग
X

Lockdown : लॉक डाउन के बीच गृह मंत्रालय ने दूसरे राज्यों में फंसे लोगों के लिए नई गाइडलाइंस जारी कर दी है। जिसके मुताबिक, दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों और तीर्थ यात्रियों को अपने घर जाने की इजाजत दे दी गई है। गृह मंत्रालय ने बुधवार को नई गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा कि जो लोग दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं वह घर जा सकेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने बिहार, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, झारखंड और महाराष्ट्र जैसे कई राज्यों की मांग के बाद यह नई गाइडलाइन तैयार की है। जिसमें तीर्थ यात्रियों, पर्यटक, प्रवासी मजदूरों और छात्रों को अपने घर जाने की इजाजत दी गई है। गृह मंत्रालय की इस गाइडलाइन के मुताबिक, अब दूसरे राज्यों में फंसे लोग अपने घर आसानी से जा सकेंगे।

गृह मंत्रालय के गाइडलाइन के मुताबिक, देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में नोडल अधिकारी की नियुक्ति करनी होगी। जो फंसे हुए लोगों को वापस भेजने और लाने के लिए एक एस ओ पी की तैनाती करेंगे। गाइडलाइन में कहा गया है कि एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के इच्छुक लोगों के लिए दोनों राज्यों के बीच आपसी तालमेल करना होगा। दोनों की सहमति के बाद ही लोग अपने घर जा सकेंगे।

गृह मंत्रालय ने साफ कहा कि जो लोग एक राज्य से दूसरे राज्य जाएंगे । उन सभी लोगों की जांच की जाएगी और जांच के बाद ही उन्हें आगे भेजा जाएगा। इसके अलावा उन लोगों को स्थानीय अधिकारियों के द्वारा क्वारंटाइन किया जाएगा और वहीं गृह मंत्री ने कहा कि वह लोग आरोग्य सेतु एप के उपयोग के लिए उन लोगों को कहें।

क्या है मामला

भारत में करोना वायरस का संक्रमण लगातार तेजी से आगे बढ़ रहा है। जिसको देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉक डाउन को लागू किया था। लॉक डाउन के चलते कई प्रवासी मजदूर तीर्थयात्री पर्यटक और छात्र एक ही स्थान पर फंस गए। जिन को भेजने और लाने के लिए कई राज्य सरकारें केंद्र सरकार से मांग कर रहे थे। जिसके बाद गृह मंत्रालय ने यह नई गाइडलाइन जारी की है।

Next Story
Top