Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

LIC का NPA पांच सालों में हुआ दोगुना, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर कसा तंज

देश की सबसे भरोसेमंद जीवन बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) को लेकर एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है।

LIC का NPA पांच सालों में हुआ दोगुना, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर कसा तंजएलआईसी और राहुल गांधी

देश की सबसे भरोसेमंद जीवन बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) को लेकर एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। भारतीय जीवन बीमा निगम का गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) बीते 5 सालों में दोगुना हुआ है। जो इस कंपनी के लिए एक संकट कहा जा सकता है। हमेशा एलआईसी का एनपीए 2 फीसदी तक रहा है लेकिन इस बार ये 6.10 फीसदी पहुंच गया है।

इसको लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि एलआईसी को नुकसान पहुंचाकर करोड़ों लोगों के भविष्य को जोखिम में डाल रही है मोदी सरकार। ऐसे में लगातार विपक्षी दल सक्रिय हो गए हैं।

ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले पांच सालों में गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों (एनपीए) में 200 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। कुल सकल एनपीए बढ़कर 30,000 करोड़ रुपये हो गया है। जो पिछले पांच सालों में दोगुना है।

ऐसे में एलआईसी ने भी निजी बैंकों की तरह लोन देने से एनपीए दोगुना हुआ। आईसीआईसीआई बैंक, यस बैंक और एक्सिस बैंक के सामने आने वाले संकट की तुलना के समान ही है।जहां एनपीए ने राजकोषीय स्वास्थ्य को काफी नुकसान पहुंचाया है।

तीनों बैंकों ने 2019-20 की दूसरी तिमाही में 6.37, 7.39 और 5.03 प्रतिशत के एनपीए दर्ज किया। एलआईसी के साथ तुलना करते हुए यह पाया गया कि बीमा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी ने अप्रैल-सितंबर के बीच एनपीए में समान 6.10 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

बता दें कि 36 लाख करोड़ रुपये की कुल संपत्ति के साथ एलआईसी ने औसत वार्षिक लाभ लगभग 2,600 करोड़ रुपये दर्ज किया। पिछले दो दशकों में बीमा कंपनियों के उभरने के बावजूद भारतीयों के बहुत सारे लोगों ने राज्य-नियंत्रित बीमा निगम में अपना विश्वास दोहराया है। नवीनतम बाजार आंकड़ों के अनुसार, एलआईसी 65 प्रतिशत से अधिक बाजार हिस्सेदारी के साथ इस क्षेत्र पर हावी है।

Next Story
Top