Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उन्नाव रेप केस : कुलदीप सेंगर ने तीस हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाई कोर्ट में दी चुनौती

दिल्ली की तीस हजारी अदालत ने 20 दिसंबर को जारी अपने आदेश में सेंगर को भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत बलात्कार और बच्चों के यौन उत्पीड़न निरोधक अधिनियम (पॉक्सो) से संबंधित प्रावधानों के तहत दोषी ठहराया था।

उन्नाव रेप केस : कुलदीप सेंगर ने तीस हजारी कोर्ट के फैसले को दिल्ली हाई कोर्ट में दी चुनौतीकुलदीप सिंह सेंगर

भारतीय जानता पार्टी (भाजपा) से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने बुधवार को उन्नाव बलात्कार मामले में तीस हजारी कोर्ट के फैसले के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर चुनौती दी है।

बीते महीने दिल्ली की तीस हजारी अदालत ने 20 दिसंबर को जारी अपने आदेश में सेंगर को भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत बलात्कार और बच्चों के यौन उत्पीड़न निरोधक अधिनियम (पॉक्सो) से संबंधित प्रावधानों के तहत दोषी ठहराया था। कोर्ट ने सेंगर को दोषी ठहराते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई और 25 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था।

बता दें कि सेंगर पर बलात्कार के मामले में दोषी ठहराए जाने के अलावा, पीड़ित के पिता की हत्या में शामिल होने के आरोप भी लगे हैं। पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद उसके पिता की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई थी।

रेप पीड़िता ने हाल ही में रायबरेली में एक सड़क दुर्घटना में अपनी चाची को खो दिया था, जिसे उसके वकील ने बलात्कार के मामले से जोड़ा है। जिसका फैसला कोर्ट ने पिछले महीने जारी किया था। कोर्ट ने सेंगर को दोषी ठहराते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी।

साल 2017 में उन्नाव की एक लड़की ने सेंगर और उनके सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। जिसमें पीड़िता ने आरोप लगाया था कि पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और सहयोगियों ने अपहरण करके उसका बलात्कार किया। उस समय लड़की की उम्र 17 साल की थी।

Next Story
Top