Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

INX Media Case : 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजे गए चिदंबरम, कार्ति बोले- पिता को जल्दी घर वापस लाऊंगा

सीबीआई की विशेष न्यायालय ने पी चिदंबरम को राहत नहीं दी है। उन्हें तिहाड़ जेल भेजने का आदेश दिया है। पी चिदंबरम 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजने का आदेश दिया है।

INX मीडिया केस: कोर्ट ने CBI की चार्जशीट पर लिया संज्ञान, 24 अक्टूबर को होगी पी. चिदंबरम की पेशीINX मीडिया केस: कोर्ट ने CBI की चार्जशीट पर लिया संज्ञान, 24 अक्टूबर को होगी पी. चिदंबरम की पेशी

सीबीआई की विशेष न्यायालय ने पूर्व वित्त और कानून मंत्री पी चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेजने का आदेश दिया है। जिसके बाद अब उन्हें तिहाड़ जेल के लिए 14 दिन की न्यायिक हिरासत के लिए ले जाया जा रहा है। विशेष अदालत से तिहाड़ जेल ले जाने के दौरान पत्रकार के सवाल का जवाब दिया। पी चिदंबरम ने हिरासत में ही कहा कि उन्हें खुद के बजाए देश की अर्थव्यवस्था की चिंता है। पूर्व वित्त मंत्री 19 सितंबर तक तिहाड़ जेल में रहेंगे। तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने से पहले डॉक्टरों की टीम मेडिकल जांच करेगी।

इससे पहले पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने उन्हें जमानत देने की मांग की है। लेकिन सॉलिसिटर जनरल (एसजी) ने इसका विरोध किया था। जिसके बाद विशेष अदालत के जज अजय कुमार ने शाम को पी चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेजने का आदेश दिया।




दूसरी तरफ विशेष अदालत के आदेश के बाद यूपीए सरकार में केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने ईडी के सामने पेश होने की अर्जी दी है। कानूनी जानकारों का कहना है कि इसके पीछे उद्देश्य भविष्य की गिरफ्तारी से बचना है। चूंकि अब तिहाड़ जेल में 14 दिन पूर्व वित्त मंत्री को रहना होगा। ऐसे में ईडी के सामने पेश होकर दूसरे मामलों की जांच भी साथ में पूरी हो सकेगी। इससे भविष्य में ईडी की संभावित कस्टडी से बच सकेंगे। क्योंकि आज विशेष न्यायालय से पी चिदंबरम को राहत मिल जाती तो ईडी की टीम उन्हें हिरासत में ले लेती। आदेश के दौरान ईडी की टीमें परिसर में मौजूद थीं।

चिदंबरम का मिलेगी टीवी की सुविधा

पूर्व कानून और वित्त मंत्री चिदंबरम को जेल में विशेष सुविधाएं भी मिलेंगी। जेल में पी चिदंबरम को लाइब्रेरी और टीवी की सुविधा भी मिलेगी। कोर्ट ने इस संबंध में तिहाड़ जेल प्रशासन को आदेश दिया है। इसके अलावा नाश्ते में उन्हें दलिया और ब्रेड दिया जाएगा।




बैरक नंबर सात में रहेंगे पूर्व वित्त मंत्री

पूर्व वित्त मंत्री को जेल में विशेष सुरक्षा मिलेगी। कोर्ट में पी चिदंबरम के वकील ने कहा कि उनको जेड श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। ऐसे में उन्हें विशेष सुरक्षा में तिहाड़ जेल में रखा जाए। जिसे न्यायालय ने मान लिया है। सूत्रों के मुताबिक पी चिदंबरम तिहाड़ की बैरक नंबर 7 में रहेंगे। जो कि वीआईपी के लिए बनायी हुई है।

अन्य कैदियों के साथ न रखने की मांग

कोर्ट के आदेश के बाद चिदंबरम के वकील ने आरोपी को विशेष सुविधाएं देने की मांग की है। पी चिदंबरम के वकील ने कहा है कि उन्हें अन्य कैदियों के साथ जेल में न रखा जाए। इसके अलावा उन्हें वेस्टर्न टॉयलेट उपलब्ध कराया जाए। ताकि उन्हें किसी प्रकार की दिक्कत उस दौरान न हो।

दवाएं साथ ले जा सकेंगे कांग्रेस नेता

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को जेल भेजने के आदेश के बाद वकील की तरफ से कुछ विशेष सुविधाएं मांगी गईं। पूर्व वित्त मंत्री के स्वास्थ्य का हवाला देते हुए दवाएं साथ ले जाने की मांग की गई। जिसे न्यायालय न मान लिया है। ऐसे में पूर्व वित्त मंत्री अपने साथ में दवाएं ले जा सकेंगे।

पिता को बहुत जल्दी घर लाऊंगाः कार्ति

वहीं पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने कहा कि मुझे न्यायिक अभिरक्षा (Judicial Custody) में कोई योग्यता नहीं दिखती, विशेषकर उन घटनाओं के लिए जो 11 साल पहले हुई हैं। वे (CBI) अभी भी चार्जशीट दाखिल करने के करीब नहीं हैं। मुझे उम्मीद है कि मैं अपने पिता को बहुत जल्दी घर वापस लाऊंगा।

जेल में मिलेंगी ये सुविधाएं

तिहाड़ जेल के महानिदेशक संदीप गोयल ने कहा कि पी. चिदंबरम को जेल नंबर- 7 और एक अलग सेल में रखा जाएगा। उन्हें रोटी, दाल और सब्ज़ी दी जाएगी। पश्चिमी शौचालय जैसी अन्य चीजें जो न्यायालय से मांगी गई हैं, प्रदान की जाएंगी।

Next Story
Share it
Top