Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Bishkek SCO Summit : संबोधन में बोले पीएम मोदी, आंतकवाद के खिलाफ सबको एकजुट होना होगा

किर्गिस्तान में दो दिवसीय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान की राजधानी में हैं। आज वह एससीओ सम्मेलन में कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया।

Bishkek SCO Summit : संबोधन में बोले पीएम मोदी, आंतकवाद के खिलाफ सबको एकजुट होना होगा

किर्गिस्तान में दो दिवसीय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान की राजधानी पहुंच चुके हैं। आज वह एससीओ सम्मेलन में कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।

Bishkek SCO Summit PM Modi :-

- पीएम मोदी ने कहा कि एससीओ देशों में आपसी जुड़ाव होना जरूरी है। भारत एससीओ सदस्य देशों के बीच आर्थिक विकास के लिए अनुकूल माहौल बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए एससीओ देशों के लोगों के लिए हेल्पलाइन शुरू करने की बात कही है।

- पिछले रविवार श्रीलंका की अपनी यात्रा के दौरान मैं सेंट एंटनी चर्च गया था, जहां पर आतंकियों ने हमला किया था। आतंकवाद को प्रोत्साहन, समर्थन और वित्तीय सहायता प्रदान करने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। हम सभी को आतंक के खिलाफ एकजुट होना चाहिए: पीएम

- भारत को SCO के पूर्ण सदस्य के रूप में दो साल हो चुके हैं। हमने SCO की सभी गतिविधियों में सकारात्मक योगदान दिया है। हमने अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में SCO की भूमिका और विश्वसनीयता में वृद्धि के लिए व्यापक इंगेजमेंट जारी रखे हैं: पीएम मोदी

- पीएम मोदी ने एससीओ देशों से आतंकवाद से निपटने के लिए साथ आने की अपील की है। उन्होंने कहा कि आंतकवाद रोज मासूमों की जान लेता है। इससे निपटने के लिए सबको साथ आने की जरूरत है। पीएम मोदी ने उन देशों को भी घेरा जो आतंकवाद को बढ़ावा दे रहे हैं।

- पीएम मोदी ने मध्य एशिया में चाबहार पोर्ट और अश्काबाद व्यापार समझौते का जिक्र करते हुए कहा कि व्यापार के साथ हम पीपुल टू पीपुल कनेक्टिविटी को भी बढ़ा रहे हैं। उन्होंने अफगानिस्तान में शान्ति और स्थिरता की जरूरत का भी जिक्र किया। साथ ही कहा कि एससीओ इस दिशा में काम कर रहा है।

पीएम मोदी ने तय कार्यक्रम के अनुसार एससीओ सदस्य देशों को संबोधित कर रहे हैं।

पीएम मोदी निर्धारित 10 बजे बिश्केक में अला अर्चा राष्ट्रपति भवन पहुंचे। वहां वह कजाकिस्तान के महामहीम कासिम जोमार्ट टोकायेव से मुलाकात की उसके बाद एससीओ के सदस्यों के साथ संयुक्त फोटोग्राफी कार्यक्रम में शामिल हुए।

पीएम मोदी सबसे पहले एससीओ की एक गोपनीय बैठक में हिस्सा लेंगे। इस बैठक में बेलारूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको और मंगोलिया के महामहीम कल्तमागीनी बत्तुला शामिल होंगे। इस बैठक के बाद पीएम एक विस्तृत बैठक में हिस्सा लेंगे और कुछ अहम दस्तावेजों पर हस्ताक्षर करेंगे।

पीएम के कार्यक्रम के अनुसार वह शाम साढ़े चार बजे किर्गिज व्यापार मंच का संयुक्त उद्घाटन करेंगे। उसके बाद किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सोरोनबाय जेंबेकोव के साथ बैठक करेंगे। शाम को प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता होगी। रात के आठ बजे पीएम मोदी की ओर से प्रेस को एक बयान जारी किया जाएगा। रात को ही वह दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

पीएम मोदी ने अफगान राष्ट्रपति गनी से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां एससीओ सम्मेलन के इतर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से मुलाकात की और युद्ध प्रभावित देश में समावेशी शांति प्रक्रिया की दिशा में भारत की ओर से निभाई जा रही भूमिका पर चर्चा की।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बैठक के बाद ट्वीट कर लिखा कि देर रात विश्वस्त दोस्तों में मुलाकात हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी से बिश्केक में एससीओ सम्मेलन के इतर मुलाकात की।

कुमार ने बताया कि दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान में स्थिति पर दृष्टिकोण साझा किया जिसमें समावेशी शांति प्रक्रिया की दिशा में भारत द्वारा निभाई जा रही भूमिका भी शामिल है। मोदी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए बृहस्पतिवार को किरगिज़ राजधानी पहुंचे हैं।

Share it
Top