Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Ayodhya Case Verdict: एसएसपी आशीष तिवारी बोले- 1600 गांवों में 16 हजार स्वयंसेवकों को जोड़ने वाले मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किए गए

Ayodhya Case Verdict: एसएसपी आशीष तिवारी ने कहा है कि उपायों की जगह पर विस्तार से खुफिया नेटवर्क और कॉन्फिडेंस-बिल्डिंग (confidence-building) को तैनात किया गया है।

Ayodhya Case Verdict: एसएसपी आशीष तिवारी बोले- हमने 1600 गांवों में 16 हजार स्वयंसेवकों को जोड़ने वाले मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किए
X
एसएसपी आशीष तिवारी

Ayodhya Case Verdict: अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट 17 नवंबर तक कभी भी फैसला सुना सकता है। देशभर की राज्य सरकारें और सुरक्षा एजेंसिएं सतर्क हैं। ताकि किसी भी तरह की तनाव की स्थिति पर काबू पाया जा सके।

इसके लिए तैयारियां भी की जा रही हैं। अयोध्या केस मामले पर अयोध्या एसएसपी आशीष तिवारी ने बयान दिया है। एसएसपी ने कहा है कि उपायों की जगह पर विस्तार से खुफिया नेटवर्क और कॉन्फिडेंस-बिल्डिंग (confidence-building) को तैनात किया गया है।

हमने 1,600 गांवों में 16,000 स्वयंसेवकों को जोड़ने वाले मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किए हैं, जिनमें से प्रत्येक में 10 स्वयंसेवक हैं। हम सोशल मीडिया पर सक्रिय रूप से अफवाहों का खंडन भी कर रहे हैं। लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की भी अपील की गई है।

17 नवंबर से पहले आ सकता है अयोध्या मामले में फैसला

बता की सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्य संविधान पीठ ने अयोध्या मामाले में लगातार 40 दिने की सुनवाई के बाद 16 अक्टूबर को फैसले सुरक्षित रख लिया है। सुप्रीम कोर्ट 17 नवंबर से पहले अयोध्या में 2.77 एकड़ जमीन मालिकाना हक के विवाद पर अपना फैसला सुना देगा। क्योंकि 17 नवंबर की सीजेआई रंजन गोगोई रिटायर हो रहे हैं।

भगवान राम की जन्मभूमि है

सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मामले में सुनवाई के दौरान हिंदू पक्षकारों ने दलील दी थी कि पूरी 2.77 एकड़ जमीन भगवान राम की जन्मभूमि है। जबकि कोर्ट में मुस्लिम पक्षकारों ने दावा करते हुए कहा कि मस्जिद के निर्माण के बाद 1528 में जमीन मुस्लिमों के पास थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story