Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

असम सरकार जनसंख्या सेना बनाने की तैयारी में, जानें क्या है पूरी प्लानिंग

असम सीएम शर्मा ने सभा को बताया कि राज्य के पश्चिमी और उत्तरी हिस्सों में आबादी बढ़ रही है।

असम सरकार जनसंख्या सेना बनाने की तैयारी में, जानें क्या है पूरी प्लानिंग
X

असम सरकार मुस्लिम बहुल इलाकों में जनसंख्या को नियंत्रित करने और जागरूकता फैलाने के लिए असम सरकार जनसंख्या सेना बनाने की तैयारी में है। सीएम हिमंत बिस्वा शर्मा ने इस बात की जानकारी सोमवार की विधानसभा में दी। असम के सीएम ने कहा कि 1000 युवाओं की सेना इलाकों में पहुंचकर गर्भनिरोधक का वितरण करेगी। सीएम शर्मा जनसंख्या नियंत्रित करने के कई प्रस्ताव लोगों की नाराजगी का सामना कर चुके हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, असम सीएम हिमंत बिस्वा शर्मा ने विधानसभा में यह भी बताया कि राज्य के पश्चिमी और उत्तरी हिस्सों में आबादी बढ़ रही है। राज्य में जनसंख्या नियंत्रण के उपायों के बारे में जागरूकता पहुंचाने और गर्भनिरोधक वितरित करने में लगभग एक हजार युवा शामिल होंगे। हम आशा कार्यकर्ताओं का एक अलग बल बनाने की तैयारी कर रहे हैं, जिन्हें जन्म नियंत्रण और गर्भनिरोधक वितरण का काम दिया जाएगा।

इसके अलावा सीएम ने कहा कि 2001 से लेकर 2011 तक असम राज्य में हिंदुओं की जनसंख्या वृद्धि 10 प्रतिशत थी, तो मुसलमानों के मामले में यह 29 प्रतिशत थी। कम आबादी की वजह से बड़े घरों, वाहनों के चलते असम में हिंदुओं की जीवनशैली बेहतर हुई है। बच्चे डॉक्टर और इंजीनियर बन रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, अभी तक यह साफ नहीं है कि सीएम ने येआंकड़े किस आधार पर दिए हैं। सीएम ने यह भी कहा कि वे राज्य में बढ़ती आबादी को नियंत्रित करने के उपायों के प्रचार के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं।

सीएम की तरफ से बताए गए इन उपायों में इच्छा से नसबंदी और असम की जनकल्याण योजनाओं का लाभ लेने की तैयारी कर रहे जोड़ों के बीच दो बच्चों की सीमा लागू करना शामिल है। अधिक आबादी की वजह से जिन संघर्षों का सामना पश्चिमी और मध्य असम के लोग कर रहे हैं, वह ऊपरी असम के लोग नहीं समझ पाएंगे। उन्होंने अधिक आबादी वाले इन इलाकों में लोगों को शिक्षित करने की भी बात कही है।

Next Story