Logo
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के अंतरिम बजट में 7 IIT, 7 IIM और 390 विश्विद्यालय सहित शिक्षा के क्षेत्र के लिए कई घोषणाएं की हैं। तीन हजार ITI खोले जाएंगे।

Big announcement education, health and youth in Budget: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को नई संसद में मोदी सरकार का अंतरिम बजट प्रस्तुत किया। इसमें उन्होंने 7 IIT, 7 IIM और 390 विश्विद्यालय सहित शिक्षा के क्षेत्र में कई बड़ी घोषणाएं की है। विशेषज्ञ इसे सरकार का क्रांतिकारी कदम बता रहे हैं। 

युवा सशक्तीकरण के लिए अहम कदम 

  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 से परिवर्तनकारी सुधार लाए जा रहे हैं। उदीयमान भारत के लिए पीएम स्कूल (पीएम श्री) में गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई हो रही है। बच्चों का समग्र और चहुंमुखी विकास किया जा रहा है।
  • स्किल इंडिया मिशन के तहत 1.4 करोड़ युवाओं को प्रशिक्षित कर 54 लाख का कौशल-उन्नयन किया गया। 
  • 3000 नई आईटीआई स्थापित की गई हैं। 7 आईआईटी, 16 आईआईआईटी, 7 आईआईएम, 15 एम्स और 390 विश्वविद्यालय स्थापित किए गए हैं।
  • पीएम मुद्रा योजना के तहत युवाओं की उद्यमिता से जुड़ी आकांक्षाओं को पूरा करने 22.5 लाख करोड़ के 43 करोड़ ऋण मंजूर किए गए। इसके अलावा निधियों की निधि, स्टार्ट-अप इंडिया और स्टार्ट-अप क्रेडिट गारंटी योजना से भी युवाओं को सहयोग देकर रोजगारदाता बनाया जा रहा है। 
  • हमारे खिलाड़ियों ने गत वर्ष एशियाई खेलों और एशियाई पैरा खेलों में सर्वाधिक पदक जीतकर इतिहास रचा है। शतरंज विभूति और वन रैंक के खिलाड़ी, प्रज्ञानंदा ने 2023 में वर्तमान शतरंज वर्ल्ड चैम्पियन, मैगनस कार्लसन को कड़ी टक्कर दी। आज भारत में 80 से अधिक शतरंज ग्रैंडमास्टर हैं जबकि वर्ष 2010 में 20 से थोड़े अधिक ग्रैंडमास्टर हुआ करते थे।

नारी शक्ति को प्रोत्साहन

  •  उद्यमिता, सुगम्य जीवन, और महिलाओं के लिए सम्मान के माध्यम से उनके सशक्तिकरण को इन दस वर्षों में गति मिली है।
  • महिला उद्यमियों को 30 करोड़ मुद्रा योजना ऋण दिए गए हैं। 10 वर्ष में उच्चतर शिक्षा में महिलाओं का नामांकन 28 प्रतिशत बढ़ गया है। 
  • स्टेम पाठ्यक्रमों में 43 प्रतिशत नामांकन बालिकाओं और महिलाओं का है, जो दुनिया में सर्वाधिक है। जो महिलाओं की बढ़ती भागीदारी को दिखाता है। 

युवाओं के लिए उपकारक बजट : डॉ आशीष तिवारी
वाणिज्य संकाय के प्राध्यापक डॉ आशीष तिवारी ने बताया कि स्किल इंडिया मिशन एवं पीएम मुद्रा योजना जैसी योजनाओं से युवा सशक्त होगा। भारत में जिस प्रकार से रोजगार की समस्या से जूझ रहे हैं और अपने भविष्य के लिए चिंतित हैं। ऐसे सभी युवाओं के लिए बजट उपकारक है। लोन प्रक्रिया सरल की गई है। स्किल डेवलपमेंट युवाओं के स्वर्णिम भविष्य के लिए उपयोगी है। शिक्षा के लिए स्कूल कॉलेज विवि खुल ही रहे हैं। स्किल ट्रेनिंग पर जोर देना गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के हितकर होगा। इस बजट से जिस प्रकार की आशा थी उसी अनुरूप बजट है।

स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार की उम्मीद : अमित कपूर
यूफियस लर्निंग के सह-संस्थापक और सीईओ अमित कपूर ने अंतरिम बजट में स्कूलिंग आउटले में 6.1% की वृद्धि का स्वागत किया। पीएम श्री प्रोग्राम के लिए 6,000 करोड़ रुपये का महत्वपूर्ण आवंटन हुआ, जो पिछले वर्ष से 50% तक की वृद्धि है। इन प्रावधानों से स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार आने की उम्मीद है। हमें चुनाव के बाद पूर्ण बजट का इंतजार है, लेकिन इन शुरुआती फैसलों से शिक्षा क्षेत्र के लिए हमारे जैसी एजटेक कंपनियों के साथ साझेदारी का एक अहम संकेत माना जा रहा है।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487