Logo
election banner
Ambati Rayudu Abruptly Quits YSRCP: रायडू ने जून 2023 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की और राजनीति में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की थी।

Ambati Rayudu Abruptly Quits YSRCP: क्रिकेटर से नेता बने अंबाती रायडू का महज 8 दिन में राजनीति से मोहभंग हो गया। शनिवार को अंबाती ने युवजन श्रमिक रायथू कांग्रेस पार्टी (YSRCP) छोड़ने का ऐलान किया। अंबाती ने 28 दिसंबर, 2023 को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी की पार्टी जॉइन की राजनीति शुरू की थी। 6 जनवरी, 2024 को उन्होंने राजनीति छोड़ने का फैसला लेकर सभी को चौंका दिया। 28 दिसंबर को पार्टी जॉइनिंग और 6 जनवरी की रिजाइनिंग तारीख को छोड़ दें तो सियासी पिच पर वो महज 8 दिन ही टिक सके।

अंबाती रायडू ने अपने एक्स पोस्ट में लिखा कि यह सभी को सूचित करना है कि मैंने वाईएसआरसीपी पार्टी छोड़ने और कुछ समय के लिए राजनीति से बाहर रहने का फैसला किया है। आगे की कार्रवाई के बारे में उचित समय पर बताया जाएगा। रायडू ने जून 2023 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की और राजनीति में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की थी।

Ambati Rayudu
Ambati Rayudu

गुंटूर संसदीय सीट से टिकट था पक्का
रिपोर्ट्स के अनुसार, अंबाती रायडू का नाम गुंटूर संसदीय सीट के लिए लगभग तय हो चुका था। वे चुनाव लड़ने की तैयारी भी कर रहे थे। उन्होंने पिछले महीने निर्वाचन क्षेत्र का व्यापक दौरा किया और चुनाव के लिए जमीन तैयार की। लेकिन अचानक उन्होंने राजनीति से दूर रहने का फैसला लेकर सभी को चौंका दिया। 

अंबाती ने क्यों छोड़ा जगन का साथ?
रिपोर्ट्स के अनुसार, नरसरावपेट से मौजूदा सांसद और वाईएसआरसीपी नेता लावु कृष्ण देवरायलु को जगन ने पहले गुंटूर सीट से चुनाव लड़ने के लिए कहा था। लेकिन सांसद देवरायलु ने उनके इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और यह गोपनीय बात भी मीडिया में लीक कर दी।

चर्चा है कि इससे रायडू नाराज हो गए। वह कथित तौर पर इस बात से नाराज थे कि जगन मोहन रेड्डी, जिन्होंने टिकट फाइनल किया था, वे अब कृष्ण देवरायलु को गुंटूर से टिकट क्यों दे सकते हैं? सूत्रों ने कहा कि उन्होंने इसे अपमान के रूप में लिया और पार्टी छोड़ने का फैसला किया। शायद उन्हें इस बात का एहसास भी हो गया था कि गुंटूर सीट पर वाईएसआरसीपी के जीतने की संभावना कम है। इसलिए देवरायलु को वहां से लड़ने में दिलचस्पी नहीं है। 

क्या कांग्रेस में शामिल होंगे अंबाती रायडू?
हाल ही में सीएम जगन मोहन रेड्डी की बहन वाईएस शर्मिला ने कांग्रेस का दामन थामा है। सूत्रों का कहना है कि अंबाती रायडू शर्मिला के संपर्क में हैं। वे जल्द कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं।  

ऐसा रहा रायडू का खेल सफर
अंबाती रायडू ने आईपीएल में 203 मैच खेले। जिसमें उन्होंने 1 शतक और 22 अर्धशतकों की मदद से 4348 रन बनाए। उन्होंने मुंबई इंडियंस की तरफ से राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 13 मार्च 2010 को आईपीएल में डेब्यू किया था। जबकि 29 मई 2023 को गुजरात टाइटंस के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेला। अंबाती रायडू ने 2019 के वर्ल्ड कप टीम में शामिल नहीं किए जाने के बाद इंटरनेशनल किक्रेट से संन्यास ले लिया था। अंबाती ने 55 वनडे और 6 इंटरनेशनल टी20 मैच खेले। उन्होंने जिंबाब्वे के खिलाफ 24 जुलाई 2013 को वनडे इंटरनेशनल मैच में डेब्यू किया था। 

5379487