Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ऐसे बढ़ाएं चुटकियों में अपना IQ

प्रोफेसर जिम हॉर्न, नींद विशेषज्ञ के मुताबिक, देर रात तक जागने वाले ज्‍यादातर लोग अधिक बहिर्मुखी रचनात्मक प्रकार जैसे कवि, कलाकार, और इन्वेन्टर होते हैं।

ऐसे बढ़ाएं चुटकियों में अपना IQ

आज की इस आधुनिक युग में लोगो की दिनचर्या इतनी व्यस्त होती हैं कि उन्हें अपने लिए समय ही नहीं रहता। काम का इतना प्रेशर होता है कि सुबह से रात कब हुई, पता ही नहीं चलता।

घरवाले भी परेशान रहते है कि बच्चे हो या बड़े रात को देर से सोने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है और इससे तरह-तरह की बीमारी होने लगती है। लेकिन शायद आपको पता नहीं है कि अगर आप देर रात तक जागते हैं तो इसके कुछ फायदे भी है।

बाक़ियों की तरह शायद आप भी इस बात से अनजान हैं, तो देर किसी बात की आइए जानते हैं कि देर से सोना कैसे फायदेमंद होता है।

अच्‍छा होता है आईक्यू लेवल

एक शोध के अनुसार जो लोग देर रात तक जागते हैं। उनका आईक्यू लेवल अच्छा होता है। वो खुराफाती होते हैं और उनका दिमाग नए विचारों की प्रयोगशाला जैसा होता है। ये लोग जिज्ञासू और फुर्तीले भी होते हैं।

शायद यही एक कारण है कि उल्लू एक बुद्धिमान पक्षी माना जाता है। फंडामेंटल वैज्ञानिक के अनुसार, रात में जागने वाले उल्लू में जल्‍द उठने वाले उल्‍लू की तुलना में बुद्धिमान होने की अधिक संभावना होती है।

कलात्‍मक होते हैं देर तक जागने वाले

रात में देर से सोने वाले लोग ज्यादा कलात्मक होते हैं। तब तक दिनभर की उधेड़बुन दिमाग से निकल चुकी होती है, तो आपके दिमाग में अच्छे और क्रिएटिव विचार आते हैं।

प्रोफेसर जिम हॉर्न, नींद विशेषज्ञ के मुताबिक, देर रात तक जागने वाले ज्‍यादातर लोग अधिक बहिर्मुखी रचनात्मक प्रकार जैसे कवि, कलाकार, और इन्वेन्टर होते हैं।

बखूबी करते है हर काम

रात को देर से सोने वाले लोगों की पढ़ाई या काम आखिरी रात में होता है, फिर भी बखूबी कर लेते हैं। डेडलाइन तो जैसे इनके लिए बच्चों का खेल होती है।

एक अध्ययन के अनुसार, रात को देर तक जागने वाले अधिक उत्साहित महसूस करते हैं और शाम को ध्यान केंद्रित करने में ज्‍यादा सक्षम होते हैं।

अकेले वक्‍त बिताने का मौका

ऐसे लोगों को खुद के साथ अकेले वक्त बिताने का मौका मिलता है। जब आस-पास सब सो जाएंगे, तो आप अकेले जो चाहें, जैसे चाहें कर सकते हैं।

आज का काम आज करने की आदत

देर से सोने के कारण यह अपने दिन के सारे काम उसी दिन पूरे कर लेते हैं और कल पर कुछ नहीं छोड़ते। इनकी यह आदत ऐसे लोगों को अधिक भरोसेमंद बनाती है। लोग ऐसे लोगों पर भरोसा करते हैं और इन्हें अपने महत्वपूर्ण काम देते हैं।

आज की इस आधुनिक युग में लोगो की दिनचर्या इतनी व्यस्त होती हैं कि उन्हें अपने लिए समय ही नहीं रहता। काम का इतना प्रेशर होता है कि सुबह से रात कब हुई, पता ही नहीं चलता।

घरवाले भी परेशान रहते है कि बच्चे हो या बड़े रात को देर से सोने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है और इससे तरह-तरह की बीमारी होने लगती है। लेकिन शायद आपको पता नहीं है कि अगर आप देर रात तक जागते हैं तो इसके कुछ फायदे भी है।

बाक़ियों की तरह शायद आप भी इस बात से अनजान हैं, तो देर किसी बात की आइए जानते हैं कि देर से सोना कैसे फायदेमंद होता है।

अच्‍छा होता है आईक्यू लेवल

एक शोध के अनुसार जो लोग देर रात तक जागते हैं। उनका आईक्यू लेवल अच्छा होता है। वो खुराफाती होते हैं और उनका दिमाग नए विचारों की प्रयोगशाला जैसा होता है। ये लोग जिज्ञासू और फुर्तीले भी होते हैं।

शायद यही एक कारण है कि उल्लू एक बुद्धिमान पक्षी माना जाता है। फंडामेंटल वैज्ञानिक के अनुसार, रात में जागने वाले उल्लू में जल्‍द उठने वाले उल्‍लू की तुलना में बुद्धिमान होने की अधिक संभावना होती है।

कलात्‍मक होते हैं देर तक जागने वाले

रात में देर से सोने वाले लोग ज्यादा कलात्मक होते हैं। तब तक दिनभर की उधेड़बुन दिमाग से निकल चुकी होती है, तो आपके दिमाग में अच्छे और क्रिएटिव विचार आते हैं।

प्रोफेसर जिम हॉर्न, नींद विशेषज्ञ के मुताबिक, देर रात तक जागने वाले ज्‍यादातर लोग अधिक बहिर्मुखी रचनात्मक प्रकार जैसे कवि, कलाकार, और इन्वेन्टर होते हैं।

बखूबी करते है हर काम

रात को देर से सोने वाले लोगों की पढ़ाई या काम आखिरी रात में होता है, फिर भी बखूबी कर लेते हैं। डेडलाइन तो जैसे इनके लिए बच्चों का खेल होती है।

एक अध्ययन के अनुसार, रात को देर तक जागने वाले अधिक उत्साहित महसूस करते हैं और शाम को ध्यान केंद्रित करने में ज्‍यादा सक्षम होते हैं।

अकेले वक्‍त बिताने का मौका

ऐसे लोगों को खुद के साथ अकेले वक्त बिताने का मौका मिलता है। जब आस-पास सब सो जाएंगे, तो आप अकेले जो चाहें, जैसे चाहें कर सकते हैं।

आज का काम आज करने की आदत

देर से सोने के कारण यह अपने दिन के सारे काम उसी दिन पूरे कर लेते हैं और कल पर कुछ नहीं छोड़ते। इनकी यह आदत ऐसे लोगों को अधिक भरोसेमंद बनाती है। लोग ऐसे लोगों पर भरोसा करते हैं और इन्हें अपने महत्वपूर्ण काम देते हैं।

ज्‍यादा नींद की जरूरत नहीं

शोधकर्ताओं के अनुसार रात को देर से सोने वाले लोगों को जल्‍दी उठने वाले लोगों की तरह अच्‍छी तरह से काम करने के लिए ज्‍यादा नींद की जरूरत नहीं होती है।

शोधकर्ताओं के अनुसार रात को देर से सोने वाले लोगों को जल्‍दी उठने वाले लोगों की तरह अच्‍छी तरह से काम करने के लिए ज्‍यादा नींद की जरूरत नहीं होती है।
Next Story
Top