Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जब हो पीरियड्स में प्रॉब्लम, तब अपनाएं ये यूजफुल टिप्स

रेग्युलर पीरियड्स होना आपके हेल्दी होने की निशानी है

जब हो पीरियड्स में प्रॉब्लम, तब अपनाएं ये यूजफुल टिप्स
पीरियड्स टाइम फ्रेम
रेग्युलर पीरियड्स होना आपके हेल्दी होने की निशानी है। लेकिन अगर इसमें किसी तरह की समस्या आ रही है, तो आपको सचेत हो जाना चाहिए। नॉर्मल कंडीशन में पीरियड्स का चक्र 28-35 दिनों का होना चाहिए। इसे पीरियड के पहले दिन से गिनना शुरू करना चाहिए। अगर आपके पीरियड्स इस टाइम फ्रेम के बीच में आते हैं, तो इसका मतलब है कि आपके पीरियड्स नॉर्मल हैं। पीरियड्स के एबनॉर्मल होने के कई कारण होते हैं, जिन्हें जानकर सही समय पर उपचार कराना बहुत जरूरी है। नहीं तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।
अवधि हो सामान्य
मासिक धर्म की अवधि, बढ़ती उम्र के साथ कम होनी शुरू हो जाती है। साथ ही यह केवल 3 से 7 दिनों के बीच की होती है। इसमें आपको 2 से 3 दिन काफी ब्लीडिंग हो सकती है। हो सकता है कि आपको लगे कि आपको ज्यादा ब्लीडिंग हो रही है। लेकिन एक साधारण पीरियड में शरीर से मात्र 1 कप खून निकल जाता है। अगर आप प्रति दिन 2 या 3 पैड्स यूज कर रही हैं, तो यह एक नॉर्मल बात है। लेकिन अगर आप दिन में 6 या 8 पैड्स यूज करने लगें, तो यह एनीमिया का संकेत हो सकता है। इसके अलावा अगर आपको एक ही पैड यूज करने की जरूरत पड़े, तो भी यह खतरे की बात है। कहने का मतलब है कि अगर आप खुद के पीरियड्स में कुछ गड़बड़ देखें तो, अलर्ट हो जाएं क्योंकि यह किसी दवाई के साइड इफेक्ट्स या फिर संक्रमण के संकेत हो सकते हैं।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, अन्य यूजफुल टिप्स -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top