Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

योग से रिश्तों में आती है मिठास, जानें कैसे रिलेशनशिप पर पड़ता है असर

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूरी दुनिया में 21 जून को मनाया जाता है। योग हमारे जीवन में बहुत महत्व रखता है और इसकी महत्ता को समझते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पहली बार 21 जून, 2015 में मनाया गया था।

योग से रिश्तों में आती है मिठास, जानें कैसे रिलेशनशिप पर पड़ता है असर
X

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) पूरी दुनिया में 21 जून को मनाया जाता है। योग हमारे जीवन में बहुत महत्व रखता है और इसकी महत्ता को समझते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पहली बार 21 जून, 2015 में मनाया गया था

ऑफिस में अपना बेस्ट देने की कोशिश में हर किसी के ऊपर काम का प्रेशर हो जाता है, लेकिन जब यह प्रेशर स्ट्रेस में बदल जाए, तो चिंता का विषय है।

इस तरह काम के प्रेशर का असर सीधा आपके बिहेवियर पर पड़ने लगता है। इस तरह न आप खुद चिड़चिड़ा महसूस करने लगती हैं, बल्कि ऑफिस में कलीग औरघर में फैमिली मेंबर्स पर भी इसका प्रभाव डालती हैं, जिससे रिश्तों पर नेगेटिव असर पड़ता है।

ऐसा न हो इसके लिए जरुरी है कि ऑफिस में काम के प्रेशर कोखुद पर हावी न होने दें। इससे आप खुद भी अच्छा फील करेंगी और दूसरों के साथ रिश्तों में भी मिठास बनाए रखेंगी।

काम के दौरान जरूर लें ब्रेक

ऑफिस में काम के दौरान छोटे-छोटे ब्रेक लेना बंद कर दिया है, तो समझ जाएं कि ऑफिस का काम अब आपके ऊपर हावी हो रहा है। इसके लिए जरुरी है किआप काम के बीच में कुछ समय का ब्रेक लेती रहें, जिससे आपका माइंड फ्रेश रहेगा और आप स्ट्रेस का शिकार होने से बच जाएंगी।

ब्रेक में खाएं फ्रेश फ्रूट्स

ऑफिस में काम करते हुए चाय-कॉफ़ी पर ही निर्भर न रहें। इससे सेहत पर बुरा असर पहुंचता है और हमें इस बात का जरा भी पता नहीं चलता, जब तक कोई गंभीर बीमारी ना हो जाए।

जरूरी है कि चाय-कॉफी को कम ही पिया जाए। इसके अलावा फ्रेश फ्रूट्स को अपने डेली रुटीन में शामिल किया जाए और ब्रेक के दौरान फ्रूट खाकर एनर्जी बढ़ाएं।

नेगेटिव नहीं पॉजिटिव सोच रखें

काम के प्रेशर के बीच अपनी सोच को नेगेटिव न होने दें। काम को लेकर अपनी क्षमताओं पर शक न करें। न ही अपनी जिम्मेदारियों से दूर भागने कि कोशिशकरें।

ऑफिस में किसी तरह की निगेटीविटी को दूर करने का सबसे अच्छा तरीक़ा है कि ख़ुद को मोटीवेट करें। हर चीज़ में कुछ न कुछ मोटिवेशनल ढूंढे औरअपनी सोच को पॉजिटव बनाए रखें। नेगेटिव सोच ज्यादा परेशान करे तो मेडीटेशन का सहारा ले सकती हैं।

सबसे पहले खुद का रखें ख्याल

किसी भी काम में बेस्ट देना हो तो पहले खुद का ख्याल रखना जरुरी होता है, क्योंकि अगर आप खुद ठीक है तभी अपना बेस्ट दे पाने में सफल हो पाएंगी। इस कारण ऑफिस जाते टाइम अच्छे से तैयार जरूर हों और अपनी हेल्थ का भी अच्छे से ख्याल रखें। इस तरह ऑफिस के प्रेशर से आपकी सेहत पर असर नहींपड़ेगा।

डेली वॉक और योग करें

प्रेशर में कोई काम नहीं होता, फिर चाहे वो घर का कोई काम हो या ऑफिस का। जब तक आप शांत नहीं रहेंगी, तब तक काम पर ध्यान नहीं दे पाएंगी। अगर आपको ऐसा लगता है कि ऑफिस के वर्क प्रेशर को बर्दाश्त करना मुश्किल हो रहा है, तो सुबह-सुबह डेली वॉक करने जाएं।

सुबह की शुद्ध वायु में योगाकरें। इससे आपका मानसिक संतुलन ठीक रहेगा और आप मानसिक रूप से मजबूत भी बनेगी। साथ ही आपको इनर हैप्पीनेस फील होगी।

जरूरत है, तो बस अपना नजरिया बदलने की यकीन मानिए, जिस पल आप ऑफिस के प्रेशर को पॉजिटिव नजरिए से देखने लगेंगी, स्थितियां अपने आप बदल जाएंगी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story