Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टर को क्यों चाहिए होता है हजमैट सूट, जानें क्या होता है ये

Coronavirus: आपने भी इस खतरनाक वायरस का इलाज कर रहे डॉक्टर को एक अजीब तरह के सूट पहने हुए देखा। जिसे हजमत कहा जाता है। जिसको लेकर आपके मन में कई सवाल भी उठे होंगे। इसी बीच आज हम आपको इससे जुड़ी तमाम जानकारी देने जा रहे हैं।

Coronavirus: कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टर को क्यों चाहिए होता है हज़मैट सूट, जानें क्या होता है ये
X
कोरोना वायरस

कोरोना के प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। वहीं इसके इलाज के लिए डॉक्टर काफी मेहनत कर रहे हैं। जहां इस खतरनाक वायरस से बचने के लिए हर कोई अपने स्तर पर इससे बचने की हर कोशिश कर रहा है। तो वहीं आपने भी इस खतरनाक वायरस का इलाज कर रहे डॉक्टर को एक अजीब तरह के सूट पहने हुए देखा। जिसे हज़मत कहा जाता है। जिसको लेकर आपके मन में कई सवाल भी उठे होंगे। इसी बीच आज हम आपको इससे जुड़ी तमाम जानकारी देने जा रहे हैं।

हज़मैट सूट क्या होता है ?

यह सूट खतरनाक रसायनों के Contact में आने से बचाता है। पीड़ितों के जरिए डॉक्टर को इंफेक्शन न पहुंचे इसिलए डॉक्टर इसे पहनते हैं। यह एक तरह से डॉक्टरों की रखवाली करता है।वहीं कोरोना का इलाज कर रहे डॉक्टर इसे पहनते हैं।

ये सूट पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट का एक हिस्सा है। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि PPEऐसा इक्विपमेंट जिसे पहनने के बाद डॉक्टर खतरनाक बीमारी से जूझ रहे मरीजों का इलाज करते हैं। इस हज़मैट सूट में चश्मा, मास्क और हेलमेट होता है।

इसे इंफेक्शन से बचने के लिए पहना जाता है। वहीं इसे केवल डॉक्टर ही नहीं बल्कि टेक्नीशियन, पैरामेडिकल ,नर्स, लैब स्टाफ भी पहनता है। जब किसी मरीज को आईसीयू या वेंटिलेटर पर रखा जाता है, या हाई रिस्क मरीज को ट्रीट करते वक्त भी इसे पहनना जरूरी होता है। क्यों कि ऐसे में इंफेक्शन फैलने के हाई चांस होते हैं।

हज़मैट सूट कैसे बनते हैं

मिली जानकारी के मुताबिक इसे प्लास्टिक, फैब्रिक और रबर से बनाया जाता है। यह सूट पूरी बॉडी को कवर कर लेता है। इस सूट में बालों से लेकर नाखून सभी चीजें कवर हो जाती हैं। इस सूट में अगर आपने चश्मा भी पहन रखा हो फिर भी इसके ऊपर से आपको गॉगल पहननो होता है। वहीं आपको बता दें कि इस सूट को सिर्फ 1 बार ही यूज किया जा सकता है। धोकर भी इसे इस्तेमाल नहीं किया जाता है।


Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story