Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानिए क्या है ब्रीदिंग एक्सरसाइज और इसके बेनिफिट्स

जानिए ब्रीदिंग एक्सरसाइज के प्रोसीजर और बेनिफिट्स के बारे में।

जानिए क्या है ब्रीदिंग एक्सरसाइज और इसके बेनिफिट्स
X
ब्रीदिंग एक्सरसाइज
पचास की उम्र पार करते ही ज्यादातर लोगों का एनर्जी लेवल कम होने लगता है। इसी वजह से वे थकावट और कमजोरी महसूस करने लगते हैं। यही कारण है कि उम्र बढ़ने के साथ कई लोग एक्सरसाइज करने से कतराते हैं। एक्सरसाइज न करने का सिर्फ यही कारण नहीं होता है, बल्कि बिजी शेड्यूल और समय की कमी भी इसकी वजह बनती है।
नतीजा हम कई तरह की बीमारियों का शिकार होने लगते हैं। लेकिन अगर अपनी थकावट को भूलकर और बिजी शेड्यूल से थोड़ा सा वक्त निकालकर ब्रीदिंग एक्सरसाइज यानी डीप ब्रीदिंग की जाए तो उम्र बढ़ने के साथ भी हेल्दी रहा जा सकता है।
इससे न सिर्फ हमारे इंटर्नल ऑर्गंस की एक्सरसाइज होती है, बल्कि हम हेल्दी और एनर्जेटिक भी बने रहते हैं। लेकिन ऐसा तब होगा, जब हम राइट प्रोसीजर को फॉलो करेंगे। जानिए ब्रीदिंग एक्सरसाइज के प्रोसीजर और बेनिफिट्स के बारे में।

प्रोसीजर
वैसे तो ब्रीदिंग एक्सरसाइज कहीं भी और कभी भी की जा सकती है। लेकिन इसके ज्यादा बेनिफिट्स तभी मिलेंगे, जब सही तरीके से इसे किया जाए। प्रॉपर तरीके से डीप ब्रीदिंग करने के लिए सीधे बैठ जाएं।
अब अपना एक हाथ छाती पर रखें और दूसरा पेट पर। इसके बाद नाक के जरिए सांस लेना शुरू करें। सांस लेते हुए मन ही मन 5 तक गिनें। सांस लेने के बाद तीन से पांच सेकेंड तक उसे भीतर ही रोक कर रखें। उसके बाद धीरे-धीरे सांस छोड़ें। ऐसा दिन में दो से तीन बार, पांच से दस मिनट तक करें।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, ब्रीदिंग एक्सरसाइज के बेनिफिट्स -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर
और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story