Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

500 में से 499 अंक लेकर टॉप पर रहे 3 छात्राएं और एक छात्र

सीबीएसई 10वीं बोर्ड के परिणाम में इस बार टॉपर्स का ''चौका'' लगा है। चार स्टूडेंट्स 500 में से 499 अंक लेकर टॉप पर आए हैं। छत्तीसगढ़ की छात्राओं ने भी टॉप-3 में जगह बनाई है।

500 में से 499 अंक लेकर टॉप पर रहे 3 छात्राएं और एक छात्र
सीबीएसई 10वीं बोर्ड के परिणाम में इस बार टॉपर्स का 'चौका' लगा है। चार स्टूडेंट्स 500 में से 499 अंक लेकर टॉप पर आए हैं। छत्तीसगढ़ की छात्राओं ने भी टॉप-3 में जगह बनाई है।
बिलासपुर की छात्रा साक्षी बागड़ीकर ने 498 और भिलाई की छात्रा साक्षी माहेश्वरी ने 497 अंक प्राप्त कर टॉपर्स में जगह बनाई। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड में 12वीं की तरह 10वीं में भी लड़कियों ने बाजी मारी है।
टॉप करने वाले चार स्टूडेंट्स में तीन लड़कियां शामिल हैं।दसवीं की परीक्षा में इस बार 1,31,493 स्टूडेंट्स ने 90 फीसदी या उससे अधिक अंक हासिल किए, जबकि 95 प्रतिशत या उससे अधिक अंक 27476 बच्चों ने हासिल किए।
बोर्ड से मान्यता प्राप्त स्कूलों की सभी श्रेणियों में जवाहर नवोदय विद्यालयों (जेएनवी) का 10 वीं बोर्ड परीक्षा में उत्तीर्णता का प्रतिशत सर्वाधिक रहा जबकि सरकारी स्कूलों में उत्तीर्णता का प्रतिशत सबसे कम दर्ज किया। जेएनवी के 97.31 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए।
सीबीएसई के अधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय विद्यालयों (केवी) में उत्तीर्णता का प्रतिशत 95.96 दर्ज किया गया जिसके बाद निजी विद्यालयों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और उनकी उत्तीर्णता प्रतिशत 89.49 रहा।
केंद्रीय तिब्बती स्कूल प्रशासन (सीटीएसए) के तहत आने वाले स्कूलों में 86.43 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए जबकि सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में यह आंकड़ा 73.46 प्रतिशत था।
सरकारी स्कूलों में 63.97 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए जोकि सभी श्रेणियों में सबसे कम है। सीबीएसई के मुताबिक 10 वीं बोर्ड परीक्षा में कुल मिलाकर 86.70 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए।
परीक्षा में 88.67 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुईं जबकि 85.32 प्रतिशत लड़के उत्तीर्ण हुए। इस साल 10 वीं की परीक्षा में 16 लाख से ज्यादा छात्र शामिल हुए थे।

499/500 नंबर वाले चार टॉपर
  • पहले टॉपर डीपीएस गुड़गांव के छात्र प्रखर मित्तल
  • दूसरी टॉपर बिजनौर की रिमझिम अग्रवाल, रिमझिम आरपी पब्लिक स्कूल की स्टूडेंट हैं।
  • तीसरी टॉपर शामली की नंदिनी गर्ग हैं। वह स्कॉटिश इंटरनेशनल स्कूल, शामली की छात्रा हैं।
  • चौथी टॉपर कोचिन की श्रीलक्ष्मी जी। वह भवानी विद्यालय की छात्रा हैं।
लड़कियों ने फिर मारी बाजी
इस साल लड़कियों ने बाजी मारी। पिछले साल लड़कियां लड़कों से पीछे थीं। इस साल लड़कियों का पासिंग प्रतिशत 88.67 फीसदी रहा, 85.32 फीसदी लड़के पास हुए। लड़कों के मुकाबले लड़कियों का पासिंग प्रतिशत 3.35 फीसदी बढ़ा है।
जवाहर विद्यालय का दबदबा
सरकारी स्कूलों का रिजल्ट सबसे खराब रहा। 63.97 फीसदी छात्र ही पास हुए। सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों का रिजल्ट 73.46 फीसदी रहा। सबसे ज्यादा 97.31फीसदी रिजल्ट जवाहर नवोदय विद्यालय और फिर 95.96 फीसदी रिजल्ट केंद्रीय विद्यालयों का रहा। तीसरे नंबर पर प्राइवेट स्कूल रहे, जहां से 89.49 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए।
Next Story
Top