Logo
election banner
Hyundai India IPO on Diwali: साउथ कोरियन कंपनी हुंडई करीब 15 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की पेशकश कर सकती है। हुंडई आईपीओ 27 हजार करोड़ रुपए के साथ पहले स्थान पर आ सकता है। 

Hyundai India IPO on Diwali: भारतीय स्टॉक मार्केट में सबसे बड़े इनीशियल पब्लिक ऑफरिंग (आईपीओ) का रिकॉर्ड लाइफ इंश्योरेंस कारपोरेशन (LIC) के नाम है। अब इंडियन ऑटो मोबाइल सेक्टर के बड़ा दखल रखने वाली साउथ कोरियन कंपनी हुंडई (Hyundai) आईपीओ लाने की तैयारी में है। हुंडई का आईपीओ इस साल दिवाली तक लॉन्च होने की उम्मीद है। अगर ऐसा होता है तो Hyundai IPO इश्यू साइज के मामले में LIC IPO से काफी बड़ा होगा।

दिवाली के आसपास आएगा हुंडई का IPO 
साउथ कोरिया की ऑटोमोबाइल कंपनी भारतीय कार बाजार में तीन दशकों का सफर पूरा कर चुकी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में स्थापित होने के बाद हुंडई कंपनी स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होने का मन बना चुकी है। इसके आईपीओ का साइज एलआईसी के आईपीओ से बड़ा हो सकता है। ऐसे में हुंडई एलआईसी का रिकॉर्ड ध्वस्त कर सकती है।

ये होगा हुंडई इंडिया का इश्यू साइज?
बता दें कि एलआईसी ने 21 हजार करोड़ रुपए का इश्यू साइज के साथ आईपीओ लॉन्च किया था। कुछ बैंकों ने हुंडई इंडिया के आईपीओ का साइज 22 से 28 हजार करोड़ रुपए होने का अनुमान जताया है। अभी हुंडई मोटर्स 39 अरब डॉलर मार्केट कैप के साथ दक्षिण कोरिया में लिस्ट है। इसके कम से कम वैल्यूएशन पर भी भारत में आईपीओ का साइज 3 बिलियन डॉलर यानी करीब 27 हजार करोड़ रुपए हो सकता है।

कार बाजार में दूसरे स्थान पर है Hyundai
हुइंई इंडिया का आईपीओ दिवाली के आसपास लॉन्च किया जा सकता है। इस दौरान कंपनी करीब 15 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की योजना बना रही है। हुंडई आईपीओ 27 हजार करोड़ रुपए के साथ पहले स्थान पर आ सकता है। अभी एलआईसी का आईपीओ सबसे बड़ा रहा है। इसके बाद पेटीएम के आईपीओ का नंबर आता है। जिसने 18 हजार करोड़ रुपए का आईपीओ पेश किया था। देश में हुइंई इंडिया की कारें पसंद और बिक्री के मामले में मारुति सुजुकी इंडिया के बाद दूसरे स्थान पर हैं। भारतीय कार बाजार में हुंडई (Hyundai) की हिस्सेदारी करीब 15 फीसदी है।

5379487