Logo
Kundali Me Surya Majboot Kaise Kare: ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को व्यक्ति की कुंडली के लिए बेहद महत्वपूर्ण ग्रह माना गया है। ग्रहों के राजा सूर्यदेव व्यक्ति की आत्मा, आत्मविश्वास, नेतृत्व क्षमता, सम्मान, यश और पिता का प्रतिनिधित्व करते है।

Kundali Me Surya Majboot Kaise Kare: ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को व्यक्ति की कुंडली के लिए बेहद महत्वपूर्ण ग्रह माना गया है। ग्रहों के राजा सूर्यदेव व्यक्ति की आत्मा, आत्मविश्वास, नेतृत्व क्षमता, सम्मान, यश और पिता का प्रतिनिधित्व करते है। कहा जाता है कि कुंडली में सूर्य की स्तिथि व्यक्ति के जीवन को हर तरह से प्रभावित करती है। यदि कुंडली में सूर्य की स्तिथि मजबूत है तो उन्हें जीवन में सफलताएं प्राप्त होती है। वहीं सूर्य की स्तिथि कुंडली में कमजोर रहे तो व्यक्ति को जीवन में कई तरह की परेशानियां सहनी पड़ती है। चलिए जानते है कुंडली में सूर्य के कमजोर होने के लक्षण और इसे मजबूत करने के उपाय। 

कुंडली में सूर्य के कमजोर होने के लक्षण
(Kundali Me Surya Kamjor Hone Ke Lakshan) 

  • - व्यक्ति में आत्मविश्वास की कमी दिखाई देना कुंडली में सूर्य के कमजोर होने का प्रतीक है। 
  • - निर्णय लेने में कठिनाई होना और दूसरों पर निर्भर रहना भी सूर्य के कमजोर होने का इशारा करता है। 
  • - कुंडली में सूर्य कमजोर होने की स्तिथि में सिरदर्द, हृदय रोग, नेत्र रोग और पेट रोग उत्पन्न होते है। 
  • - कमजोर सूर्य वाले व्यक्ति को करियर में सफलता प्राप्त करने में कई परेशानियां उत्पन्न होती है। 
  • - कुंडली में सूर्य की कमजोरी स्तिथि आपके पिता के साथ संबंधों को भी कमजोर करती है। 
  • - सूर्य की कुंडली में कमजोरी स्तिथि के चलते समाज में उचित मान-सम्मान प्राप्त नहीं होता है। 

कुंडली में सूर्य को मजबूत करने के उपाय
(Kundali Me Surya Ko Majboot Karne Ke Upay) 

  • - प्रतिदिन सूर्य देव को जल अर्पित करना और सूर्य मंत्र का जाप करना चाहिए। 
  • - रविवार के दिन सुरदेव के निमित्त उपवास रखें और विधिवत पूजा-अर्चना करें। 
  • - रविवार के व्रत में सूर्य देव को लाल रंग के वस्त्र, गुड़, चना दाल आदि अर्पित करें। 
  • - रविवार के दिन सुबह के समय सूर्यदेव को तांबे के बर्तन में जल भरकर अर्पित करें। 
  • - रविवार के दिन गले में तांबे का लॉकेट पहनें और प्रतिदिन सूर्य नमस्कार करें। 
  • - कुंडली में सूर्य मजबूती के लिए माणिक्य और रूबी जैसे रत्न नियमित धारण करें। 
  • - कुंडली में सूर्य मजबूती के लिए अधिकांश बार पीले रंग के वस्त्र ही धारण करें। 
  • - कुंडली में सूर्य मजबूती के लिए अधिकांश बार पीले रंग के खाद्य पदार्थों का सेवन करें। 

डिस्क्लेमर: यह जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है। Hari Bhoomi इसकी पुष्टि नहीं करता है।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487