Logo
election banner
New Year Celebration Ban in Pakistan: सात अक्टूबर को हमास के लड़ाकों ने इजराइल पर हमला किया था। कई हजार बम एक साथ दागे थे। इसके बाद इजराइल ने पलटवार किया। अब तक 21 हजार से अधिक लोग मारे जा चुके हैं।

New Year Celebration Ban in Pakistan: नया साल 2024 आने और 2023 के खत्म होने में महज 2 दिन शेष हैं। पूरी दुनिया नए साल का स्वागत नई उर्जा, उमंग और जश्न के साथ करेगी। लेकिन पाकिस्तान में जश्न नहीं होगा। पाकिस्तान के केयरटेकर प्रधानमंत्री अनवार-उल-हक काकड़ ने नए साल के मौके पर किसी तरह के जश्न मनाने पर रोक लगा दी है। यह फैसला उन्होंने फिलिस्तीन पर हो रहे इजरायली हमले के चलते लिया। 

पीएम काकड़ ने देश के नाम दिया संदेश
पीएम अनवार ने गुरुवार रात देश को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि हम फिलिस्तीनियों के दुख और तकलीफ में उनके साथ हैं। ऐसे में हमें नए साल पर एकजुटता दिखाने, संयम और विनम्रता दिखाने की जरूरत है। फिलिस्तीन की चिंताजनक स्थिति को देखते हुए इस बार नए साल पर कोई जश्न नहीं होगा।  

अब तक 21 हजार फिलिस्तीनी मारे गए
पीएम काकड़ ने कहा कि 7 अक्टूबर को इजराइली सेना की तरफ से हमला किया गया। बमबारी की गई। अब तक 21 हजार से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं। इनमें करीब 9 हजार बच्चे हैं। इजराइल ने हिंसा और अन्याय की हदें पार कर दी हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और पूरा मुस्लिम जगत वेस्ट बैंक में निर्दोष बच्चों का नरसंहार और निहत्थे फिलिस्तीनियों के नरसंहार को देखकर पीड़ा में है। 

इजरायली रक्तपात रोकने के लिए जारी रखेंगे प्रयास
पीएम काकड़ ने कहा कि फिलिस्तीन को दो बार मदद भेजी गई है। तीसरी मदद की तैयारी चल रही है। हम गाजा से घायलों को निकालने के लिए जॉर्डन और मिस्र से भी बात कर रहे हैं। हमने दुनिया के सामने फिलिस्तीनियों की दुर्दशा उजागर करने की कोशिश की है और भविष्य में भी इजराइल के रक्तपात को रोकने के लिए ऐसा प्रयास जारी रखेंगे। 

jindal steel Ad
5379487