Logo
election banner
हरियाणा कुश्ती संघ के अध्यक्ष पद पर भी भारतीय कुश्ती संघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण सिंह के नजदीकी रमेश पांचाल ने जीत दर्ज की है। इससे पहले दिसंबर माह में उनके समर्थक संजय सिंह के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जाने पर अन्तराष्ट्रीय बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक व विनेश फौगाट ने प्रधानमंत्री आवास के बाहर फुटपाथ पर अपने पदक रखकर विरोध दर्ज करवाया था। जिसके बाद खेल मंत्रालय ने कुश्ती संघ की कार्यकारिणी को निलंबित कर दिया था। अब हरियाणा बृजभूषण समर्थक की जीत के बाद इन पहलवानों के प्रतिक्रिया पर सभी की निगाह रहेंगी।

Haryana Wrestling Association Election। हरियाणा कुश्ती संघ की इलेक्टिड बॉडी की बैठक रविवार को बहादुरगढ़ में हुई। इसमें डब्ल्यूएफआई के कोषाध्यक्ष सतपाल देशवाल और दर्शन लाल द्वारा ऑब्जर्वर भेजे गए। संघ के अध्यक्ष बनने के लिए वोटिंग भी करवाई गई। वोटिंग के बाद रमेश बोहर पांचाल (लुहार)को हरियाणा कुश्ती संघ का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। रमेश को 18 में से 14 वोट मिले। रमेश बोहर से पहले रोहतास सिंह नंदन अध्यक्ष थे। बता दें कि रमेश को सांसद बृजभूषण शरण का नजदीकी माना जाता है।  नियुक्ति के बाद रमेश ने कहा कि हम परिवार की तरह पहलवानों को आगे बढ़ाने का काम करेंगे।

नांदल को किया था निलंबित

बहादुरगढ़ में हुई हरियाणा एमैच्योर रेसलिंग एसोसिएशन की सामान्य परिषद की बैठक में प्रधान रोहतास नांदल की कार्यशैली की आलोचना करते हुए निलंबित कर दिया गया। उनके स्थान पर अब सीनियर वाइज प्रेजिडेंट रमेश पांचाल को कार्यकारी प्रधान की शक्तियां दी गई हैं। भारतीय कुश्ती संघ के ऑब्जर्वर के रूप में डब्ल्यूएफआई के कोषाध्यक्ष सत्यपाल देशवाल बैठक में मौजूद रहे।

रविवार को  बहादुरगढ़ में हुई मीटिंग

रविवार को बहादुरगढ़ के सेंट एंथोनी स्कूल में एचएडब्ल्यूए की कार्यकारिणी की बैठक हुई। इसमें प्रदेश कार्यकारिणी के 18 में से 13 सदस्य मौजूद रहे। जबकि सामान्य परिषद के 42 सदस्यों में से 30 बैठक में मौजूद रहे। बैठक में प्रधान रोहताश नांदल द्वारा की जा रही गतिविधियों पर चर्चा हुई। उन पर गलत तरीके से बैंक खातों का संचालन करने, बैलेंस शीट व खाता विवरण भी सामान्य परिषद के समक्ष सांझा नहीं करने, बिना परामर्श के एकतरफा निर्णय लेने के आरोप लगाए गए।

नांदल के सभी अधिकारी किए निलंबित

बैठक में इस चर्चा के दौरान रोहताश नांदल के सभी अधिकार निलंबित करते हुए वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश पांचाल को उनकी शक्तियां सौंपने का निर्णय लिया गया। एसोसिएशन के महासचिव राकेश कोच ने बताया कि इस संविधान सम्मत निर्णय के बाद अब रोहतास नांदल किसी प्रतियोगिता का आयोजन नहीं कर सकता। बैठक में गुरुग्राम से अधिवक्ता मंदीप शेरा, फरीदाबाद डॉ. योगेश मेहता, धीर सिंह, यमुनानगर से डॉ. विजय दहिया, नवदीप, पंचकुला से कृष्ण ढुल, महेंद्रगढ़ से जितेंद्र यादव, जसवंत यादव, पानीपत से अजय मलिक आदि मौजूद रहे।

5379487