Logo
हरियाणा में जून माह के अंत में मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है। प्री-मानसून गतिविधियां नजर आने लगी हैं, जिससे जल्द हल्की बरसात या बूंदाबांदी की संभावनाएं बढ़ने लगी हैं। इस सप्ताह हल्की बरसात भारी गर्मी से राहत दिलाने का काम करेगी।

Haryana: जून माह के अंत में मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है। प्री-मानसून गतिविधियां नजर आने लगी हैं, जिससे जल्द हल्की बरसात या बूंदाबांदी की संभावनाएं बढ़ने लगी हैं। इस सप्ताह हल्की बरसात भारी गर्मी से राहत दिलाने का काम करेगी। सप्ताह के अंत में अच्छी बरसात होने की संभावना जताई जा रही है। फिलहाल हवा में नमी का स्तर बढ़ने के कारण उमस भरी गर्मी परेशान कर रही है। वहीं, लू का प्रकोप काफी हद तक खत्म हो गया है।

उमस भरी गर्मी छुड़ा रही पसीने

रविवार को सुबह से आसमान साफ रहने के कारण दोपहर तक उमस भरी गर्मी पसीने छुड़ाती रही। अधिकतम तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस बढ़कर 41.5 डिग्री पर आ गया। सुबह से मौसम साफ रहने के कारण दोपहर तक तेज धूप का असर बना रहा। बीते चार दिनों से मौसम में बदलाव के बाद लू का असर लगभग खत्म हो चुका है, लेकिन चिपचिपी गर्मी अभी भी लोगों का पसीना छुड़ा रही है। मौसम में बदलाव के कारण जनजीवन पटरी पर आने लगा है। लोगों ने दोपहर के समय भी घरों से बाहर निकलना शुरू कर दिया है। लू के कारण दोपहर के समय लोग घरों में ही दुबके रहने को मजबूर थे। मौसम अनुकूल होना शुरू हो गया है। कई दिनों से भारी गर्मी के कारण बिजली का लोड भी काफी बढ़ गया था। अब अनावश्यक पावर कटों से भी लोगों को राहत मिलने लगी है।

बिखराव वाली बरसात की संभावना

मौसम विशेषज्ञ डॉ. चंद्रमोहन के अनुसार तेज हवाएं चलने से प्री-मानसून गतिविधियां बढ़ने लगी हैं। इससे दक्षिणी हरियाणा और राजस्थान के सीमावर्ती इलाकों में बिखराव वाली बरसात की संभावनाएं बन रही हैं। इस सप्ताह मौसम में लगातार परिवर्तन देखने को मिलेगा। इस दौरान तापमान में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। सप्ताह के अंत में अच्छी बरसात होने की संभावना है। इस समय किसानों को बरसात का बेसब्री से इंतजार है। अगर अच्छी बरसात होती है, तो किसान जल्द बाजरे की बिजाई शुरू कर देंगे। मौसम में बदलाव से कपास की फसल को भी लाभ हो रहा है।

jindal steel hbm ad
5379487