Logo
election banner
ग्रामीण और संभागीय मुख्यालय शहर के विद्युत लाईन में पक्षियों का बसेरा होने से जहां आगजनी की संभावना बढ़ गई है। जहां शहर के कृषि उपज मंडी परिसर समेत वार्डों के विद्युत लाईन में पक्षियों का बसेरा रहता है।

महेंद्र विश्वकर्मा-जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के जगदलपुर जिले में ग्रामीण और संभागीय मुख्यालय शहर के बिजली लाईन में पक्षियों का बसेरा होने से जहां आगजनी की संभावना बढ़ गई है। वहीं दूसरी ओर चिड़ियों के चलते बिजली बंद होने से उपभोक्ताओं को भीषण गर्मी में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसके अलावा कबूतर और अन्य कई चिड़ियों की मौत भी हो चुकी है। साथ ही चिड़ियों के चलते बंद बिजली को बहाल करने में बिजली कर्मचारियों को घंटों मशक्कत करनी पड़ रही है।

जहां शहर के कृषि उपज मंडी परिसर, शांतिनगर वार्ड, पुराने हाऊसिंग बोर्ड अघनपुर, सनसिटी कालोनी एवं अन्य वार्डों के बिजली लाईन में चिड़ियों का बसेरा रहता है। साथ ही बिजली पोल पर चिड़ियों ने अपना घोषला बना लिया है। बिजली लाईन में चिड़ियों के बसेरा से शार्ट-सर्किट होने से लाईन का फीडर से बिजली बंद हो रही है, जिससे इस भीषण गर्मी में उपभोक्ताओं को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बताया जा रहा है कि, हॉल ही में शहर के शांतिनगर वार्ड में कबूतर के चलते लाईन शार्ट-सर्किट हुआ। जिससे जहां बिजली बंद हुई और साथ में लाईन के चलते कबूतर एवं अन्य चिड़ियों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा बंद बिजली को बहाल करने में बिजली कर्मचारियों को घंटों मशक्कत करना पड़ा है। 

बिजली लाइन के आस-पास उड़ रही चिड़ियां
बिजली लाइन के आस-पास उड़ रही चिड़ियां

कई बार लग चुकी है आग 

बिजली लाईन में चिड़ियों के घोसलों से कई बार आगजनी हो चुकी है, इससे उपभोक्ताओं का सर्विस तार एवं घर की बिजली लाईन जल जाने से काफी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा है। इसीलिए उपभोक्ताओं ने बताया कि, ऐसे घोसलों को विद्युत कंपनी द्वारा पहुंच कर पोल बने चिड़ियों के घोषलों को हटाया जाए। जिससे घोसलों से संभावित आगजनी को रोकने से रोका जाए।

मेंटनेंस के दौरान हटाएंगे जाएंगे घोषले

बिजली वितरण कंपनी जगदलपुर वृत्त के अधीक्षण अभियंता एसएस पांडव ने इस संबंध में बताया कि, पोल में बने चिड़ियों के घोषलों को विद्युत लाईन मेंटनेंस के दौरान हटाया जाएगा।

5379487