Logo
election banner
Joe Root 31st Test Century: जो रूट ने भारत के खिलाफ रांची टेस्ट के पहले दिन शतक जमाया। ये उनके टेस्ट करियर की 31वीं सेंचुरी है। इसके साथ ही उन्होंने खास रिकॉर्ड भी बनाया।

नई दिल्ली। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जो रूट ने भारत के खिलाफ रांची टेस्ट के पहले दिन शतक ठोक दिया। रूट ने आकाश दीप की गेंद पर चौका लगाकर अपना शतक पूरा किया। ये रूट के करियर का 31वां शतक है। उन्होंने इसके लिए 219 गेंदें खेली। इस दौरान रूट ने सिर्फ 9 चौके ही मारे। रूट की इस पारी ने इंग्लैंड की पारी को संभालने का काम किया। इसके साथ ही रूट ने एक खास मुकाम भी हासिल किया। वो भारत के खिलाफ 10 टेस्ट लगाने वाले दुनिया के पहले बैटर बन गए हैं। 

जो रूट ने भारत के खिलाफ 52 पारियों में 10 शतक जमाए हैं। उन्होंने स्टीव स्मिथ को पीछे छोड़ा है। ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्मिथ ने भारत के खिलाफ टेस्ट की 37 पारियों में 9 शतक ठोके हैं। गैरी सोबर्स, विव रिचर्ड्स और रिकी पोंटिंग ने भारत के खिलाफ 8-8 टेस्ट शतक जमाए हैं। 

रूट ने 31वां टेस्ट शतक जमाया
इससे पहले, रांची टेस्ट के पहले दिन टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही थी। भारत की तरफ से डेब्यू करने वाले आकाश दीप ने अपने पहले 5 ओवर में ही जैक क्राउली, बेन डकेट और ओली पोप को पवेलियन की राह दिखा दी थी। इसके बाद आर अश्विन और रवींद्र जडेजा ने बेन स्टोक्स और जॉनी बेयरस्टो को चलता कर दिया था। 

रूट ने फोक्स के साथ अहम साझेदारी की
लंच से पहले इंग्लैंड ने 112 रन पर 5 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद जो रूट ने मोर्चा संभाला और पहले विकेटकीपर बेन फोक्स और फिर ओली रॉबिन्सन के साथ अहम साझेदारी की। रूट ने फोक्स के साथ छठे विकेट के लिए 261 गेंद में 113 रन की साझेदारी की। इसके बाद 7वें विकेट के लिए रॉबिन्सन के साथ वो अबतक 57 रन की पार्टनरशिप कर चुके हैं। 

इससे पहले, रूट ने बेयरस्टो के साथ भी 52 रन की साझेदारी की थी। इस पारी में रूट ने बैजबॉल के बजाए टेस्ट के पारंपरिक अंदाज में बल्लेबाजी की। अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उन्होंने 108 गेंद में अपनी फिफ्टी पूरी की और फिर 219 गेंद में सैकड़ा जमाया। 

5379487